यूपीएससी परिणाम: प्र.मं.ने बधाई के साथ दिया मंत्र

Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। संघ लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को घोषित सिविल सेवा परीक्षा 2019 में प्रदीप सिंह ने शीर्ष स्थान हासिल किया। यूपीएससी के अनुसार, कुल 829 प्रतिभागियों की भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस), भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित अन्य लोक सेवाओं के लिए परीक्षाएं हुई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षा में बैठने वाले सभी छात्रों को बधाई दी है। इसके साथ ही प्र.म. मोदी ने उन छात्रों को संदेश भी दिया जो कि सफल नहीं हो पाए।
प्र.म. मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, उन युवाओं के लिए जिन्हें सिविल सेवा परीक्षा 2019 में वांछित परिणाम नहीं मिला, मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि जीवन कई अवसरों से भरा है। आप में से हर एक मेहनती है। आपके भविष्य के सभी प्रयासों के लिए शुभकामनाएं। प्र.म. मोदी ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, सिविल सेवा परीक्षा, 2019 को सफलतापूर्वक पास करने वाले सभी उज्जवल युवाओं को बधाई! सार्वजनिक सेवा का एक रोमांचक और संतोषजनक कैरियर आपको इंतजार कर रहा है। मेरी शुभकामनाएं! संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा मंगलवार को घोषित सिविल सेवा परीक्षा 2019 में प्रदीप सिंह ने शीर्ष स्थान हासिल किया। एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है। यूपीएससी के अनुसार, कुल 829 प्रतिभागियों की भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस), भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित अन्य लोक सेवाओं के लिए अनुशंसा की गई है।
जतिन किशोर ने द्वितीय और प्रतिभा वर्मा ने तृतीय स्थान: जतिन किशोर ने द्वितीय और प्रतिभा वर्मा ने तृतीय स्थान हासिल किया है। आयोग ने शीर्ष स्थान प्राप्त करने वालों का और अधिक ब्यौरा साझा नहीं किया। सिविल सेवा परीक्षा हर साल तीन चरणों में आयोजित की जाती है जिसमें प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार शामिल होता हैं। इसमें चयनित उम्मीदवार प्रतिष्ठित लोक सेवा में योगदान करते हैं। संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) 2019 की परीक्षा में प्रतिभा वर्मा ने तीसरा स्थान हासिल किया है और महिला उम्मीदवारों में वह पहले स्थान पर हैं। संघ लोक सेवा आयोग ने मंगलवार को सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए अपने परिणाम की घोषणा की और भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय विदेश सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और केंद्रीय सेवाओं में नियुक्ति के लिए 829 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई है।
शीर्ष 10 की सूची में प्रतिभा वर्मा तीसरे स्थान पर रहीं: यह नियुक्ति सितंबर 2019 में आयोजित सिविल सेवा की लिखित परीक्षा और इस साल फरवरी से अगस्त तक आयोजित साक्षात्कारों के आधार पर हुई है।

कुल 829 उम्मीदवारों में से 150 से अधिक महिलाएं हैं। शीर्ष 10 की सूची में प्रतिभा वर्मा तीसरे स्थान पर रहीं और उनके बाद विशाखा यादव व संजीदा महापात्र ने क्रमश: छठा और 10वां स्थान हासिल किया है। प्रदीप सिंह इस साल के टॉपर रहे हैं और उनके बाद जतिन किशोर ने दूसरा स्थान हासिल किया है।


Share