Wednesday , 21 August 2019
Top Headlines:
Home » International » मोदी ने ओलांद के समक्ष उठाया स्कॉर्पीन डेटा लीक मुद्दा

मोदी ने ओलांद के समक्ष उठाया स्कॉर्पीन डेटा लीक मुद्दा

modi_hollandeहांगझू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को जी20 शिखर सम्मेलन से इतर फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के साथ मुलाकात में इंडियन स्कॉर्पीन पनडुब्बी का गोपनीय ब्योरा लीक होने के मुद्दे पर चर्चा की। तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगन के साथ बैठक में उन्होंने भारत के परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) सदस्यता के प्रयासों का मुद्दा उठाया। चीन के इस पूर्वी शहर में शिखर सम्मेलन के दूसरे और अंतिम दिन मोदी ने एर्दोगन और ओलांद से अलग-अलग मुलाकात की। इससे पहले वह ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे से भी मिले। उन्होंने टेरीजा से यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने के फैसले के बाद के परिदृश्य में अवसरों के निर्माण को लेकर चर्चा की।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने बताया कि ओलांद के साथ बैठक में मोदी ने स्कॉर्पीन श्रेणी की पनडुब्बियों से संबंधित संवेदनशील गोपनीय ब्योरा लीक होने का मामला उठाया। फ्रांसीसी रक्षा कंपनी डीसीएनएस के सहयोग से मुंबई में भारतीय नौसेना के लिए बनाई जा रही छह अत्याधुनिक पनडुब्बियों की क्षमता के संबंध में 22 हजार से अधिक पन्नों का गोपनीय ब्योरा विदेश में लीक हो गया था।
स्वरूप ने कहा कि एर्दोगन के साथ मुलाकात में प्रधानमंत्री ने 48 सदस्यीय एनएसजी में भारत की सदस्यता के मुद्दे पर चर्चा की। इस दौरान एर्दोगन ने मुस्लिम धर्मगुरु फतुल्लाह गुलेन के भारत में समर्थकों को लेकर चिंता जताई। तुर्की ने 15 जुलाई को हुए तख्तापलट की नाकाम कोशिश के लिए अमेरिका में रह रहे गुलेन को जिम्मेदार ठहराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*