Sunday , 25 August 2019
Top Headlines:
Home » India » मुखर्जी, नानाजी, हजारिका सम्मानित

मुखर्जी, नानाजी, हजारिका सम्मानित

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्नÓ सम्मान समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरूवार को तीन शख्सियतों को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया। भारत रत्न प्राप्त करने के बाद पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने बधाई दी। नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को यह सम्मान मरणोपरांत दिया गया।
नानाजी देशमुख की तरफ से दीनदयाल उपाध्याय रिसर्च इंस्टिट्यूट के चेयरमैन वीरेंद्रजीत सिंह और भूपेन हजारिका की तरफ से उनके बेटे तेज हजारिका ने भारत रत्न लिया।
इसी साल जनवरी में इन तीनों हस्तियों को भारत रत्न देने का ऐलान हुआ था। समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और मोदी सरकार के तमाम बड़े मंत्री शामिल हुए। भारत रत्न के तौर पर उससे सम्मानित होने वाली हस्ती को एक ताम्र पदक दिया जाता है। पीपल के पत्ते के आकार के ताम्र पदक पर प्लेटिनम का चमकता सूर्य बना होता है जिसके नीचे चांदी से ‘भारत रत्न’ लिखा रहता है।
भारत रत्न चार साल बाद दिया गया
चार साल बाद भारत रत्न दिया गया। इससे पहले 2015 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और स्वतंत्रता सेनानी और बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के संस्थापक मदन मोहन मालवीय को यह सम्मान दिया गया था। इससे पहले 45 हस्तियों को भारत रत्न सम्मान दिया जा चुका है। अब यह संख्या 48 हो गई है। भारत रत्न पाने वाले पांचवें राष्ट्रपति 83 साल के प्रणब मुखर्जी यह सम्मान पाने वाले पांचवें ऐसे शख्स हैं, जो देश के राष्ट्रपति भी रह चुके हैं। उनसे पहले डॉ. एस. राधाकृष्णन, राजेंद्र प्रसाद, जाकिर हुसैन और वीवी गिरी भी भारत रत्न से सम्मानित हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*