Friday , 22 February 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » महाकालेश्वर गार्डन से 25 लाख के जेवर व दो लाख नकदी चोरी

महाकालेश्वर गार्डन से 25 लाख के जेवर व दो लाख नकदी चोरी

75 तोला सोने के जेवरात और उपहारों से भरा बैग ले गए उचक्के
नगर संवाददाता & उदयपुर
महाकाल के बी गार्डन में बीती रात्रि को विवाह समारोह से अज्ञात उचक्के 75 तोला सोने के जेवरात, दो लाख रुपये नकद एवं उपहारों के लिफाफे से भरा बेग लेकर चम्पत हो गये। इस घटना से दुल्हन के भाई-बहन की तबियत बिगड़ गई और उन्हें एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया। वारदात से परिवार पूरी तरह सहम गया और कुछ भी बताने को तैयार नहीं है। इधर विवाह समारोह में रैकी कर जेवरात चुराने वाली गैंग शहर में लम्बे समय से सक्रिय है और अभी तक पुलिस के पास कोई सुराग नहीं हैै। घटना के बाद आज पुलिस ने वहां लगे सीसी टीवी खंगाले लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा।
हुआ यूं कि अम्बामाता मछली वाले मकान में रहने वाले जगदीश पुत्र भंवरलाल निमावत की बेटी सेजल का विवाह मंगलवार रात को महाकालेश्वर के बी गार्डन में हो रहा था। बेटी के हथलेवे में रखने वाले सोने का रानी हार, टॉप्स, जेला, तुलसी सहित 75 तोले सोने के जेवरात और दो लाख रुपये नकद रखे हुए थे। करीब दस बजे तक बेग बहु के पास था जब बारात आई तो बेग को ससुर ने ले लिया। ससुर ने विवाह समारोह में आए अपने रिश्तेदार से बधाई व शगुन ले रहे थे और जेवर, लिफाफो व नकदी से भरा बेग डायचे के सामान के साथ ही सोफे पर रख दिया था। इस दौरान जैसे ही वे शगुन का लिफाफा लेकर पीछे मुड़े और बेग में रखने लगे तो उनके होश उड़ गये सोफे पर रखा बेग गायब था। तुरन्त विवाह समारोह में खलबली मच गई और चारों तरफ बेग को तलाशा लेकिन बेग कहीं नहीं मिला। यह देखकर जगदीश के बेटे-बेटी की तबीयत बिगड़ गई और उनको निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। गमगीन माहौल में विवाह की रस्में संपन्न हुई। पुलिस मौके पर आई लेकिन उनके हाथ भी कुछ नहीं लगा। सुबह परिवारजन पुन: गार्डन आए और इधर-उधर ढूंढने लगे तो बेग का कहीं पता नहीं लगा। वहीं मंदिर परिसर में लगे सीसी टीवी कैमरों को भी पुलिस की मौजूदगी में खंगाला गया लेकिन किसी को भी बेग को लेकर बाहर निकलते हुए नहीं देखा गया। मंदिर प्रशासन ने भी पुलिस का पूरा सहयोग किया। जगदीश ने बताया कि यह जेवरात व नकदी बेटी के हथलेवे में रखने थे। वारदात के बाद बुधवार सुबह परिवार की महिलाएं मंदिर परिसर में एकत्रित हुई तो घटना से इतनी आक्रोशित थी कि आपस में ही उलझ पड़ी। परिजनों ने समझाया और घर ले गये। उधर अम्बामाता थाने में जगदीश निमावत ने पुलिस को रिपोर्ट दी लेकिन उसमें जेवरात मात्र तीस तोला ही बताया गया और नकदी नहीं बताई। उधर एक सप्ताह पहले ही सुखाडिय़ा सर्कल पर स्थित होटल करणी पैलेस से अज्ञात महिला दस तोले सोने के जेवरात और दस हजार रुपये नकद नकदी से भरा बेग चुराकर ले गये जिसका आज तक कोई सुराग नहीं लगा। जबकि वह महिला तो सीसी टीवी कैमरे में कैद भी हुई लेकिन पुलिस को अभी तक कोई सुराग नहीं लगा। कुछ दिनों पुलिस न्यू भुपालपुरा स्थित अरिहंत वाटिका में पुलिस अधिकारी हिमांशु सिंह के भतीजे के विवाह समारोह से 35 तोले सोने के जेवर व चांदी के जेवरात, डेढ़ लाख रुपये नकद व उपहार में आए लिफाफों से भरा बेग चुराकर ले गये जिसका भी आज तक कोई सुराग नहीं मिला।
विवाह स्थल से लगातार चोरियों ने पुलिस की नींद उड़ा दी हैै और पुलिस केवल मांझा पकडऩे और लपकों के खिलाफ कार्यवाही करने में व्यस्त हो रही है जबकि चोरों, नकबजनों एवं उचक्कों की गैंग ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.