Friday , 18 October 2019
Top Headlines:
Home » India » भर आई मोदी-आडवाणी की आंखें

भर आई मोदी-आडवाणी की आंखें

नई दिल्ली (एजेंसी)। भाजपा की वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि देने के लिए दिल्ली के जंतर-मंतर स्थित उनके आवास पर तांता लगा रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने सुषमा के आवास पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।
अपनी पूर्व सहयोगी का पार्थिव शरीर देखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेहद भावुक हो गए और उनकी आंखें डबडबा गईं। प्रधानमंत्री ने बेहद गमगीन माहौल में सुषमा की बेटी बांसुरी स्वराज के सिर पर हाथ फेर कर उनका ढांढस बंधाया। वहीं कुछ देर बाद पहुंचे भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी सुषमा के पार्थिव शरीर को शांत खड़े निहारते रहे।
प्र.म. मोदी की आंखें हो गई नम
सुषमा के पार्थिव शरीर को बुधवार सुबह अंतिम दर्शनों के लिए जंतर-मंतर स्थित आवास पर रखा गया। अंतिम दर्शनों के लिए सुबह से ही वहां लंबी लाइन लगी रही। भाजपा ही नहीं, विरोधी दलों के नेता भी उन्हें अंतिम विदाई देने पहुंचे। समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव तो सुषमा को श्रद्धांजलि देते हुए बेहद भावुक हो गए और रोने लगे। कुछ देर बाद प्र.म. मोदी सुषमा के आवास पर पहुंचे। अपनी पार्टी की बेहद तेज तर्रार और लोकप्रिय नेता को इस तरह शांत देख वह भावुक हो गए और उनकी आंखें छलक आईं। मोदी इस दौरान सुषमा की बेटी को सांत्वना देते रहे।
सुषमा को शांत खड़े निहारते रहे आडवाणी
मोदी के बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी अपनी बेटी प्रतिभा (शेष पेज 8 पर)

जब आडवाणी को सहारा देते दिखे मोदी
नई दिल्ली (एजेंसी)। पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जीवन की अपनी पारी खेल दुनिया को अलविदा कह गईं। राजधानी में पूरे राजकीय सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई। उनकी आखिरी विदाई की बेला पर लोधी रोड शवदाह गृह की एक तस्वीर ने सबका ध्यान खींचा जिसमें प्र.म. मोदी पार्टी के वयोवृद्ध नेता लाल कृष्ण आडवाणी को सहारा देते दिखे। सुषमा को श्रद्धांजलि देने के बाद जब अडवाणी जाने लगते हैं तो मोदी उनका हाथ पकड़कर उन्हें सहारा देते हैं। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी उनका दूसरा हाथ पकड़ उन्हें सहारा देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*