Friday , 19 April 2019
Top Headlines:
Home » Rajasthan » भभका गोदाम, करोड़ों का यार्न नष्ट

भभका गोदाम, करोड़ों का यार्न नष्ट

11 दमकलों ने 8 घंटे में पाया काबू
भीलवाड़ा (प्रात:काल संवाददाता)। वस्त्र नगरी में बीती देर रात रीको थर्ड फेज स्थित एक गोदाम अचानक भभक उठा। इस घटना में करोड़ों रुपए का यार्न जलकर राख हो गया। आग पर 8 घंटे की मशक्कत के बाद 11 दमकल की मदद से काबू पाया जा सका। अभी आगजनी के कारणों का खुलासा नहीं हो सका। पुलिस के अनुसार रीको इंडस्ट्रीज एरिया थर्ड फेज में प्लॉट संख्या एफ़ 265 पर स्थित गोदाम मुकेश पाटोदिया ने ले रखा है और पाटोदिया ब्रदर्स के नाम से इस गोदाम में यार्न का कारोबार चल रहा था। बीती रात 12.30 बजे यह गोदाम अचानक जल उठा। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। रात करीब 1.30 बजे आग की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दमकल वाहनों को भी बुलवा लिया ।भीलवाड़ा फायर स्टेशन से पहुंची दमकले इस आग पर काबू पाने के लिए पर्याप्त नहीं थी। ऐसे में जिले के उद्योगों के साथ ही पड़ोसी चित्तौडग़ढ़ जिले से कुल 11 दमकल को मौके पर बुलवाया। इन प्रत्येक दमकलो ने 4 से 5 चक्कर लगाकर 8 घंटे के बाद आग पर काबू पाया। इससे पहले भीषण आग के चलते गोदाम पर लगे टीनशेड, एंगल पिघल गई। गोदाम की दीवारें धराशाई हो गई। आग की सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिलीप सैनी, डीएसपी भंवर रणधीर सिंह, प्रताप नगर थाना प्रभारी रोहिताश देवंदा और सब इंस्पेक्टर मदनलाल भी मौके पर पहुंचे। सब इंस्पेक्टर मदन लाल का कहना है कि प्रारंभिक तौर पर व्यापारी ने इस घटना में 350 टन यार्न जलने और लगभग 5 से 6 करोड रुपए का नुकसान होने की बात कही है। नुकसान का वास्तविक आंकलन सर्वे के बाद ही सामने आ पाएगा। उधर,पुलिस ने यह भी कहा है कि इसी यारण गोदाम में न तो सीसीटीवी कैमरे लगे हैं और ना ही कोई चौकीदार तैनात था। ऐसे में पुलिस इस पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है। यह आग कैसी लगी इसका खुलासा अभी नहीं हो पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.