Saturday , 21 September 2019
Top Headlines:
Home » Jaipur » बाघ मामले में पुर्नविचार याचिका दायर

बाघ मामले में पुर्नविचार याचिका दायर

t24_caseजयपुर। राजस्थान में रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान से उदयपुर के सज्जनगढ जैविक उद्यान स्थानातंरित  बाघ टी-24 (उस्ताद) के मामले में पुर्नविचार करने के लिए उच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई हैं। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश अजय रस्तौगी एवं न्यायमूर्ति ए एस ग्रेवाल की खंडपीठ ने चन्द्रभान ङ्क्षसह द्वारा दायर पुर्नविचार याचिका को स्वीकार करते हुए कहा कि याचिकाकर्ता इस पर जुलाई में होने वाली अगली सुनवाई में इससे संबंधित अदालती आदेशों को न्यायालय में प्रस्तुत करे।  याचिका में बताया गया कि वन्य जीव विभाग ने बाघ को स्थानातंरित करने का कोई ठोस कारण नहीं बताया और न ही इसकी प्रक्रिया को अपनाया। उन्होंने कहा कि बाघ को राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) की अनुमति लिए बिना ही उदयपुर स्थानातंरित कर दिया गया। याचिकाकर्ता ने विशेषज्ञ समिति के उस रिपोर्ट को भी चुनौती दी जिसमें बाघ को नरभक्षी बताया गया। याचिका में बाघ को वापस उसके घर रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान भेजे जाने का आग्रह किया गया। उल्लेखनीय है कि उस्ताद नाम से प्रसिद्व इस बाघ टी-24 को वन रक्षक रामपाल पर हमला कर देने के बाद उसकी मौत, जाने के बाद उसके क्षेत्र से लगभग 460 किलोमीटर दूर उदयपुर के सज्जनगढ जैविक उद्यान में स्थानातंरित कर दिया गया था। जिस पर वन्य जीव प्रेमियों एवं सामाजिक संगठनों ने विरोध जताया और इस पर रोक लगाने के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*