Wednesday , 26 February 2020
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » पूरी दुनिया से कट कर जीते हैं ये आदीवासी

पूरी दुनिया से कट कर जीते हैं ये आदीवासी

tribalदुनिया में न जाने कितनी जनजातियां हैं जिनके बारे में न सुना होगा न देखा होगा। ऐसी ही एक जनजाती है इंडोनेशिया की मेनतावई जहां के लोगों की जिंदगी इन तस्वीरों के जरिए समझी जा सकती है। मेनतवाई जनजाती के लोग तरह तरह के टैटू बनवाने और खानाबदोशों की तरह जिंदगी बिताने के लिए चर्चित हैं। ये तस्वीरें फोटोग्राफर मोहम्मद सलेह बिन दोलाह ने खींची हैं और साथ ही अपना अनुभव और वहां के लोगों की दिनचर्या के बारे में भी बताया है। उन्होंने बताया है कि यहां के लोग पूरी तरह दुनिया से कट कर रहते हैं। औरतें बिना कपड़ों के घूमती हैं औऱ इनकी जिंदगी पूरी तरह प्रकृतिक संसाधनों पर निर्भर करती है। बंबू, लकड़ी और घास से बने घरों में इस जनजाती के 64,000 लोग रहते हैं। ये अपने घरों को सजाने केो लिए शिकार किए हुए जानवरों की खोपडिय़ों का इस्तेमाल करते हैं। दावा है कि ये लोग मानते हैं कि हर सांस लेती चीज में आतमा होती है, पेड़-पौधों में भी। इस समुदाय में एक मेडिसिन मैन यानी औषधी विशेषज्ञ है जो इन आत्माओं से बातचीत करता है। अगर कोई बीमार पड़ जाए तो इस आदमी को बुला लिया जाता है और वो सारी परेशानियां दूर कर देता है। मोहम्मद बताते हैं कि यहां हर आदमी को हीरो समझा जाता है। यहां के लोग बहुत खुश हो जाते हैं जब भी कोई बाहरी व्यक्ति इनसे मिलने आता है तो ये बहुत खुश हो जाते हैं क्योंकि इन्हें उसे अपना द्वीप और रहन सहन दिखाना अच्छा लगता है। शिकार के लिए इनके पास तरह तरह के हथियार हैं। भले, चाकू, तीर-बाण और ये बंदूक। बच्चे बचपन से ही खेल खेल में सारी तरकीबें सीख लेते हैं। हाथ से बनी नेट से महिलाएं मछलियां पकड़ती हैं। कपड़ों के नाम पर ये पत्तियों से बनी स्कर्ट पहनती हैं। इनका पूरा दिन इसी तरह नदी, पेड़ों के बीच गुजरता है। वैसे सिगरेट पीने में भी ये उस्ताद हैँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*