Monday , 26 August 2019
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » पाक को ब्लैकलिस्ट कराएगा भारत

पाक को ब्लैकलिस्ट कराएगा भारत

चरमरा जाएगी पाक की इकॉनमी
नई दिल्ली/पेरिस (एजेंसी)। पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर आतंकी हमले के बाद भारत कूटनीतिक और राजनीतिक स्तर पर पाक को दुनिया में अलग-थलग करने में जुटा है। इसके अलावा उसकी अर्थव्यवस्था पर भी प्रहार करने का प्रयास किया जा रहा है। अटैक में पाक स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का हाथ सामने आने पर भारत ने उससे मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया है। यही नहीं पाक से आयात होने वाली चीजों पर सीमा शुल्क भी 200′ बढ़ा दिया गया है।
अब भारत ने पाक की इकॉनमी को दुनिया में ब्लैकलिस्ट कराने की तैयारी कर ली है। दुनिया भर में आतंकी फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के खिलाफ काम करने वाली संस्था फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स को भारत डॉजिएर सौंपेगा और पाक को ब्लैकलिस्ट करने की मांग करेगा। बता दें एफएटीएफ ने बीते साल जुलाई में ही पाक को ग्रे लिस्ट में शामिल किया था।
इसके साथ ही उसने चेतावनी दी थी कि यदि पाक के रवैये में सुधार नहीं हुआ तो फिर उसे ब्लैकलिस्ट भी किया जा सकता है। अगले सप्ताह एफएटीएफ की सालाना मीटिंग पैरिस में होनी है। ऐसे में इस मीटिंग के दौरान भारत के डॉजिएर पर विचार करते हुए पाक को ब्लैकलिस्ट करने का फैसला भी लिया जा सकता है।
सुरक्षाबल अब तक जुटाए गए सबूतों के आधार पर डॉजिएर तैयार करने में जुटे हैं। भारत की ओर से एफएटीएफ को यह बताया जाएगा कि किस तरह पाक स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में सीआपीएफ पर आत्मघाती हमले को अंजाम देने की साजिश रची।
एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि एफएटीएफ की मीटिंग के दौरान भारत यह दबाव बनाएगा कि पाक को ब्लैकलिस्ट किया जाए। फिलहाल एफएटीएफ ने ईरान और उत्तर कोरिया को ब्लैकलिस्ट कर रखा है। (शेष पेज 8 पर)पाकिस्तान को लगा एक और झटका, डॉक्टरों ने रद्द किया दौरानई दिल्ली (एजेंसी)। पुलवामा के अवंतीपुरा में सीआरपीएफ पर हमला करवाने का नतीजा पाकिस्तान ने भुगतना शुरू कर दिया है। भारत ने कई मोर्चों पर पाकिस्तान के बहिष्कार की शुरुआत कर दी है। 7 मार्च को लाहौर जाने वाले भारतीय डॉक्टरों के एक दल ने अब दौरा रद्द कर दिया है। डॉक्टरों का यह प्रतिनिधिमंडल पाकिस्तान में होने वाली सार्क (साउथ एशियन एसोसिएशन ऑफ रीजनल को-ऑपरेशन) देशों के एक कार्यक्रम में शिरकत करने जा रहा था। लेकिन पुलवामा में पाकिस्तान की तरफ से की गई कायराना हरकत के चलते प्रोग्राम रद्द कर दिया गया है।
पाकिस्तान को लगे कई झटके, कई अभी बाकी : डॉक्टरों का यह प्रतिनिधिमंडल सार्क एसोसिएशन ऑफ एनेस्थेसियोजिस्ट कांग्रेस में शिरकत करने जा रहा था। यह कॉन्फ्रेन्स पाकिस्तान सोसाइटी ऑफ एनेस्थेसियोजिस्ट एंड साइंटिफिक कमेटी की तरफ से आयोजित की जा रही है। बता दें भारत सरकार ने पाकिस्तान से कारोबार के क्षेत्र में दिया जाने वाला मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी छीन लिया है। (शेष पेज 8 पर)पाकिस्तान पर बढ़ा दबाव : अफगानिस्तान ने यूएन में की शिकायत तो ईरान ने दिया समननई दिल्ली (एजेंसी)। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत कूटनीतिक तौर पर पाकिस्तान को घेरना शुरू कर दिया है। इस मामले में उसे पड़ोसी और दूसरे मुल्कों से भी मदद मिल रही है। अफगानिस्तान ने आतंक का गढ़ बन चुके पाकिस्तान की शिकायत यूनाइटेड नेशन सिक्युरिटी काउंसिल में की है। वहीं ईरान ने आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान के एंबेसडर को नोटिस जारी किया है। बता दें कि दक्षिण पूर्वी सिस्तान और बलूचिस्तान में हुए आतंकी हमले में 27 रिवोल्यूशनरी गार्ड्स की मौत हो गई थी। इस आतंकी घटना की जिम्मेदारी पाकिस्तान के एक आतंकी संगठन जैश उल अदल ने ली है। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने साफ कहा है कि ईरान अपने सैनिकों के खून का बदला लेकर रहेगा। इधर अफगानिस्तान ने भी पाकिस्तान के खिलाफ (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*