Saturday , 19 October 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » पति को छुड़ाने पत्नी ने कोर्ट में लगाई गुहार

पति को छुड़ाने पत्नी ने कोर्ट में लगाई गुहार

बेकरिया थाना पुलिस द्वारा तीन दिन से
रख रखा है अवैध रूप से हिरासत में
नगर संवाददाता & उदयपुर
एक विवाहिता ने अदालत में प्रार्थना पत्र पेश किया कि उसके पति को बेकरिया थाना पुलिस द्वारा अवैध रूप से पुलिस हिरासत में रखा हुआ है और उन्हें छोड़ा नहीं जा रहा है। इस पर न्यायालय ने बेकरिया थाना पुलिस को आदेश दिया कि शीघ्र ही उक्त मामले की रिपोर्ट न्यायालय में पेश करे।
वागुनीफला जोरिया गोगुंदा निवासी लाली पत्नी देवाराम गमेती ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में अपने अधिवक्ता के जरिये प्रार्थना पत्र पेश किया जिसमें बताया कि उसके पति बेकरिया निवासी देवाराम पुत्र भूराराम गमेती को बेकरिया थाना पुलिस द्वारा अवैध रूप से हिरासत में रखा हुआ है। रिपोर्ट में बताया कि एक अप्रेल की रात्रि को परिवार के साथ घर में सो रहे थे, उसी दौरान रात्रि में करीब साढ़े तीन बजे बेकरिया थानाधिकारी अमराराम व पांच-सात अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ आए। दरवाजा खटखटाया, दरवाजा खोला तो पुलिस वाले ने पूछा कि रंगलाल, नानूराम व चूना कहां है? इस पर पति ने कहा कि उन्हें नहीं पता और न ही वे उन्हें जानते है। इस पर थानाधिकारी आवेश में आ गए और मेरे पति के साथ बिना कारण मारपीट की। निर्दयतापूर्वक मारपीट से सिर से खून निकल आए और पैरों से चलना भी दुर्भर हो गया। मेरे पड़ौस में खड़ी दो मोटरसाइकिलों में भी तोडफ़ोड़ की। मेरे पति को बिना किसी अपराध के साथ ले गए और उन्हें हिरासत में रखा हुआ है। पीडि़ता ने न्यायालय में गुहार की कि वह गर्भवती है और उसे भी अंदरूनी चोटें आई है। प्रार्थना पत्र में यह भी बताया कि मैंने बार-बार पति को छोडऩे के लिए थाने जाकर निवेदन किया लेकिन उन्होंने नहीं सुनी। प्रार्थना पत्र में बताया कि बेकरिया थाना पुलिस द्वारा अवैधानिक रूप से पति को हिरासत में रखा हुआ है उन्हें रखने का अधिकार नहीं है और यह संवैधानिक अधिकारों के विपरीत है। पति को 24 घंटे से अधिक समय में उन्हें किसी प्रकरण में पेश नहीं किया गया। प्रार्थना पत्र में यह भी कहा कि मेरे पति को तुरन्त प्रभाव से छुड़वाया जाए और मामले में लिप्त आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्रसंज्ञान लिया जाकर कानूनी कार्यवाही की जाए। इस पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने बेकरिया थानाधिकारी को आदेश दिया कि वे शीघ्र ही हिरासत में रखे हुए देवाराम के संबंध में न्यायालय में रिपोर्ट पेश करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*