Tuesday , 18 December 2018
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » नौसेना से कांपेंगे पाकिस्तान और चीन

नौसेना से कांपेंगे पाकिस्तान और चीन

शामिल होंगे 56 जंगी जहाज
नई दिल्ली। भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने सोमवार को कहा कि नौसेना अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए 56 जंगी जहाजों और पनडुब्बियों को शामिल करने की योजना बना रही है और एक तीसरा विमानवाहक पोत लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होंने देश को यकीन दिलाया कि नौसेना भारत के समुद्री इलाकों में दिन-रात निगरानी कर रही है। इससे भारत की ताकत अधिक बढ़ जाएगी और पाकिस्तान व चीन समुद्र के रास्ते भारत पर नजर डालने से पहले सोचने पर मजबूर हो जाएंगे।
एडमिरल लांबा ने अपनी सालाना प्रेस कांफ्रेंस में कहा, नौसेना अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए 56 जंगी जहाजों और पनडुब्बियों को शामिल करने की योजना बना रही है। यह निर्माणाधीन 32 जंगी जहाजों के अतिरिक्त होंगे।
उन्होंने कहा कि तटीय सुरक्षा बढ़ाने के प्रयासों के तहत मछली पकडऩे वाली तकरीबन ढाई लाख नौकाओं पर स्वत: पहचान करने वाले ट्रांसपोर्डर लगाने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। लांबा ने कहा कि तीसरे विमानवाहक पोत को शामिल (शेष पेज 8 पर)अदन की खाड़ी में समुद्री डाकूओं को खदेड़ा
लांबा ने कहा कि भारतीय नौसेना अदन की खाड़ी से समुद्री डाकुओं के खिलाफ अभियान को प्रतिबद्ध है। नौसेना अंतरराष्ट्रीय तरीकों से इससे निपट रही है। 2008 से 70 भारतीय जंगी जहाजों की मदद से 3,440 से ज्यादा जहाजों और उसमें सवार 25 हजार सवारों को सुरक्षित किया गया। अंडमान में अमेरिकी टूरिस्ट चाउ की मौत पर भी बोले लांबा
अंडमान-निकोबार में अमेरिकी टूरिस्ट जॉन एलन चाउ की मौत के सवाल पर लांबा ने कहा, मैं नहीं समझता कि यह तटीय सुरक्षा की असफलता थी। वह अंडमान-निकोबार में एक टूरिस्ट के तौर पर आए थे और उनके पास वहां ठहरने का इजाजत थी। मामले की जांच पुलिस कर रही है। कुलभूषण जाधव के परिवार के संपर्क में
पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के सवाल पर उन्होंने कहा, हम जाधव के परिवार के संपर्क में हैं और उन्हें हर प्रकार की सहायता प्रदान कर रहे हैं। लांबा ने कहा कि अब सभी नए जहाज महिला अफसरों के रहने की व्यवस्था के साथ बन रहे हैं। हालांकि विक्रमादित्य जैसे जहाज हैं जिसमें इस तरह की व्यवस्था है। अब भविष्य के जितने भी जहाज बनेंगे वे महिला अधिकारियों के रहने की व्यवस्था से लैस होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.