Saturday , 21 September 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » निम्बाहेड़ा पालिकाध्यक्ष, पत्नी व चालक की मौत

निम्बाहेड़ा पालिकाध्यक्ष, पत्नी व चालक की मौत

accidentउदयपुर। शहर के गोवर्धनविलास थाना क्षेत्र में हाईवे पर टायर फटने से खड़े ट्रोले में ईनोवा कार घुस गई। जिससे कार में सवार निम्बाहेड़ा नगर पालिका अध्यक्ष शंकरलाल राजोरा, उनकी पत्नी पार्वती राजोरा और चालक की मौके पर ही मौत हो गई और पालिका अध्यक्ष के मित्र का परिवार गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद निम्बाहेड़ा से पार्षद सहित कई जनप्रतिनिधि और संगठन के कार्यकर्ता और पदाधिकारी उदयपुर पहुंचे। इधर उदयपुर से भी महापौर चन्द्रसिंह कोठारी के साथ-साथ संगठन के पदाधिकारी पहुंचे और व्यवस्थाओं को संभाला।
पुलिस सूत्रों के अनुसार भाजपा से निम्बाहेड़ा नगर पालिका चैयरमेन शंकरलाल (52) पुत्र भैरूलाल राजोरा, इनकी पत्नी पार्वती राजोरा (50), भाई नारायण राजोरा (45) और पारिवारिक मित्र प्रोफेसर नित्यानंद (52), पत्नी मंजू (50), पुत्री निवेदिता (21) ईनोवा कार में सवार होकर गुजरात में विभिन्न धार्मिक स्थलों पर गए थे। कार को चालक ओमप्रकाश (50) पुत्र राधेश्याम कुमावत निवासी निम्बाहेड़ा चला रहा था। गुजरात में द्वारिका, सोमनाथ सहित कई स्थानों पर यात्रा करने के बाद सभी शनिवार सुबह पुन: निम्बाहेड़ा की ओर लौट रहे थे। गोवर्धनविलास थाना क्षेत्र में अहमदाबाद हाईवे पर खरपीणा के समीप एक सीमेंट से भरे ट्रोले का आगे का टायर फट गया था। ट्रोला चालक ने हाईवे के बीच में ही ट्रोला खड़ा कर दिया और हाईवे पर पत्थर लगाकर टायर बदलने का काम शुरू कर दिया।
इसी दौरान सुबह करीब पांच बजे अहमदाबाद की ओर से आ रही निम्बाहेड़ा नगर पालिका चैयरमेन शंकरलाल राजोरा की ईनोवा का चालक अचानक मोड़ पर ट्रोला खड़ा देखकर घबरा गया और गाड़ी को रोक नहीं पाया और ईनोवा को ट्रोले में पीछे से घुसा दी। जिससे एक धमाके के साथ कार बिखर गई। मौके पर ही निम्बाहेड़ा नगर पालिका अध्यक्ष शंकरलाल राजोरा, इनकी पत्नी पार्वती राजोरा और चालक ओमप्रकाश कुमावत की मौत हो गई। सुबह अन्य वाहनों की सूचना पर मौके पर थाने से जाब्ता गया और सभी घायलों को पहले मानबाई मुर्डिया चिकित्सालय में ले जाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद एमबी चिकित्सालय में रैफर कर दिया गया।
इधर जब पुलिस को पता चला कि दुर्घटना में मृत निम्बाहेड़ा नगर पालिका का चैयरमेन है तो तत्काल इस बारे में पुलिस उच्चाधिकारियों के साथ-साथ निम्बाहेड़ा में चैयरमेन के परिजनों को बताया गया। सूचना पर निम्बाहेड़ा से नगर पालिका के पार्षदों के साथ-साथ वहां के संगठन के पदाधिकारी भी उदयपुर पहुंच गए। इसके साथ ही निम्बाहेड़ा विधायक श्रीचंद कृपलानी ने भी उदयपुर पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद गोयल को फोन किया। जिस पर पुलिस अधीक्षक गोयल भी चिकित्सालय पहुंच गए। इधर सूचना मिलने पर नगर निगम के महापौर चन्द्रसिंह कोठारी भी चिकित्सालय में गए और चिकित्सकों से घायलों के बारे में जानकारी प्राप्त की।
सुबह उदयपुर भाजपा के पदाधिकारियों के साथ-साथ निम्बाहेड़ा से आए नगर पालिका के पार्षद और अन्य जनप्रतिनिधि मोर्चरी में एकत्रित हुए जहां पर मृतक चैयरमेन शंकरलाल राजोरा, इनकी पत्नी पार्वती राजोरा, चालक ओमप्रकाश कुमावत का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। इसके साथ ही नित्यानंद, पत्नी मंजू, पुत्री निवेदिता और चैयरमेन के भाई नारायण राजोरा को शहर के एक निजी चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया है। पुलिस ने घटनाक्रम के बाद में तत्काल कार्यवाही करते हुए क्रेन की सहायता से ट्रोले में फंसी कार को बाहर निकाला और ट्रोला और कार जब्त कर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।युवती ने पुलिस को बताया कि ये चेयरमैन हैं
दुर्घटना की सूचना पर मौके पर जब सुबह थाने से जाब्ता गया तो इस दौरान तीन की तो मौत हो चुकी थी और मात्र निवेदिता ही होंश में थी। पुलिस को पता नहीं था कि यह निम्बाहेड़ा नगर पालिका चैयरमेन की गाड़ी है। तब निवेदिता ने शंकरलाल की ओर ईशारा कर बताया कि यह निम्बाहेड़ा नगरपालिका के चैयरमेन है। तब जाकर उच्चाधिकारियों को बताया गया और तत्काल सभी को चिकित्सालय में ले जाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*