Wednesday , 26 February 2020
Top Headlines:
Home » Udaipur » नकबजनी और बाईक चोरी का अन्तर्राज्यीय गिरोह पकड़ा

नकबजनी और बाईक चोरी का अन्तर्राज्यीय गिरोह पकड़ा

bike_robbersउदयपुर। झल्लारा थाना पुलिस ने मकानों में घुसकर नकबजनी और जिले के अलावा गुजरात से बाईक चोरी करने वाले अन्तर्राज्जीय गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया। उनसे पुलिस ने आठ बाइक के साथ ही कुछ जेवर भी बरामद किए।
जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने टीम का गठन किया और टीम को ग्रामीण अंचल में चोरियों को रोकने के दिशा-निर्देश दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिला चन्द्रशील ठाकुर के निर्देशन में और डिप्टी अशोक मीणा के नेतृत्व में थानाधिकारी झल्लारा शैतानसिंह, एएसआई भंवरसिंह, कांस्टेबल विक्रमसिंह, जीवतराम, महेन्द्रसिंह, कमलकिशोर, बद्रीलाल, गोविन्दसिंह, मोहनपालसिंह, मनोहरलाल की टीम का गठन किया। टीम ने मुखबिर की सूचना पर वननाका रोड़ पर नाकाबंदी की।
इस दौरान धरियावद की ओर से बाईक पर सवार होकर आए तीन युवकों पुलिस नाकाबंदी को देखकर भागने लगे। पुलिस ने पीछा कर आरोपियों को दबोचा। आरोपियों से सख्ती से पूछताछ में बाईक को अहमदाबाद गुजरात से चोरी करना बताया।
पुलिस आरोपियों को थाने पर आई और पूछताछ की तो अपना शंकरलाल पुत्र पेमजी मीणा निवासी बड़ी वीरवा, रमेश पुत्र भैरा मीणा निवासी करगेटा, दौला पुत्र मोगजी मीणा निवाीस बारा ढुडा फलां झल्लारा बताया। आरोपियों के झार पर जाकर पुलिस ने तलाशी ली तो आरोपियों के पास से विभिन्न स्थानों पर की गई नकबजनी में चुराए गए हजारों मूल्य के जेवर बरामद हुए। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। सफलता पर जिला पुलिस अधीक्षक ने वारदातों को खोलने वाली टीम को सम्मानित करने की घोषणा की।
औने-पौने दामों में बेची बाइक
थानाधिकारी ने बताया कि आरोपियों ने झल्लारा थाना क्षेत्र के समोड़ा, मजावतों का गुड़ा, समोड़ा भागल, नाथजी की धूणी, सलूम्बर हॉस्पीटल परिसर, जोशीवाड़ा बरोड़ा सहित एक दर्जन से अधिक स्थानों पर नकबजनी करना स्वीकार किया । इसी तरह आरोपियों ने बताया कि उन्होंने गुजरात केे विभिन्न स्थानों के साथ-साथ डूंगरपुर, बांसवाड़ा, में बाईक चोरी की थी। गुजरात से बाईक चोरी कर उदयपुर लाने के बाद बाईक की नम्बर प्लेट बदल दी जाती थी और औने-पौने दामों में बेच दी जाती थी।
शातिर नकबजन, मौज-शौक के लिए करते वारदात
आरोपी रमेश और शंकर शातिर नकबजन और चोर है। आरोपियों ने झल्लारा, सलूम्बर क्षेत्र के अलावा गुजरात के विभिन्न क्षेत्रों में एक दर्जन से अधिक वारदातों को अंजाम दिया। आरोपियों द्वारा चोरी करने के बाद सामान को औने-पौने दाम पर बेच दिया जाता और आने वाले पैसों को मौज-शौक और शराब पीने में उड़ा देते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*