Friday , 24 May 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » त्रिशलानंदन के जयकारों से महावीरमय हुई लेकसिटी

त्रिशलानंदन के जयकारों से महावीरमय हुई लेकसिटी

महावीर के जन्म पर केसरिया छटा में निकली 2618 महिलाएं, रचा इतिहास
नगर संवाददाता & उदयपुर
बजे कुण्डलपुर में बधाई कि नगरी में वीर जन्मे महावीर जी…., पावापुरी में ढोल बाजे…., एक बार आओ जी महावीर म्हारे आंगणे, झुक-झुक मनवार पधारों म्हारे… महावीर स्वामी के गीतों के बीच केसरिया परिधान में लिपटी महिलाएं अलग-अलग रूप धारण किए हुए कतारबद्ध रूप से 2618 महिलाएं शोभायात्रा की शोभा बढा रही थी। युवाओं की वाहन रैली ने ”नेशन फस्र्टÓÓ का संदेश देते हुए कतारबद्ध रूप से चलकर मिसाल पेश की। वहीं शोभायात्रा में चल रही झांकियां भी अलग-अलग संदेश दे रही थी।
महावीर जैन परिषद के तत्वावधान में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी श्रमण भगवान महावीर स्वामी के 2618वें जन्मकल्याणक महोत्सव पर नगर में बुधवार को भव्य शोभायात्रा निकाली गई। परिषद के संयोजक राजकुमार फत्तावत ने बताया कि नगर निगम प्र्रांगण से प्रात: 8.30 बजे रवाना हुई शोभायात्रा में जहां एस्कोर्ट करते हुए जीप चल रही थी वही सबसे पीछे डीजे पर समाजजन जैन गीतों पर मदमस्त होकर झूम रहे थे। शोभायात्रा में गजराज, साथ घुडसवार जैन पताका लिए, जीप में जैन प्रतिक चिन्ह, युवक -युवतियों की वाहन रैली, विभिन्न स्कूलों के बच्चे, 26 झांकियां, सप्तकिरण रथ एवं पावापुरी रथ, विभिन्न पुरूष संगठन सहित 2618 महिलाएं और पुरूष कतारबद्ध रूप से शोभायात्रा में चल रहे थे। पूरी शोभायात्रा में पांचों बैण्ड जैन समाज के होकर स्वरलहरिया बिखेर रहे थे। कोषाध्यक्ष कुलदीप नाहर ने बताया कि शोभायात्रा नगर निगम प्रांगण से प्रारम्भ होकर सूरजपोल, बापूबाजार, देहलीगेट, भोपालवाडी, बडा बाजार, सर्राफा बाजार, घण्टाघर, मोती चौह्टा, हाथीपोल, अश्विनी बाजार होते हुए पुन: टाउन हॉल पर सम्पन्न हुई। शोभायात्रा के पश्चात सभी को प्रभावना वितरित की एवं ठण्डाई पिलाई गई। ऐतिहासिक शोभायात्रा का पूरे मार्ग में ऐतिहासिक स्वागत हुआ। विभिन्न व्यापारिक, धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों ने अनोखे तरिके से शोभायात्रा का स्वागत किया। पूरे मार्ग में स्वागत द्वार लगाए गए और खाद्य वस्तुओं एवं शीतल पेय की व्यवस्थाएं की गई। वही नगर निगम ने शोभायात्रा के दौरान साफ सफाई के चाक चौबन्द प्रबन्ध किए। वही पुलिस प्रशासन का भी पूर्ण सहयोग रहा।
ध्वजारोहण से हुआ आगाज : जन्म कल्याणक महोत्सव का आगाज जैन जन गन मन की स्वरलहरियों के बीच तपोनिधि जीवनसिंह लीला देवी मेहता, नारायण सेवा संस्थान के संस्थापक कैलाश मानव, परिषद संयोजक राजकुमार फत्तावत, कोषाध्यक्ष कुलदीप नाहर, सह संयोजक यशवंत आंचलिया, महापौर चन्द्र सिंह कोठारी, गणेशलाल मेहता, विनोद भोजावत, शांतिलाल नागदा, देवेन्द्र छाप्या, नरेन्द्र सिंघवी एवं दिगम्बर समाज के अध्यक्ष शांतिलाल वेलावत ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान जीवनसिंह मेहता एवं कैलाश मानव का पगडी, उपरणा एवं प्रतिक चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस रस्म के साथ ही भव्य शोभायात्रा रवाना हुई।
जैन बैण्डों ने बिखेरी स्वरलहरियां : इस शोभायात्रा की मुख्य बात यह रही कि पुरी शोभायात्रा में पुरूष व महिला मण्डलों के जैन बैण्ड ही स्वरलहरिया बिखरे रहे थे। एक भी बाजार का बैण्ड इस शोभायात्रा में नहीं रखा गया। सबसे आगे जैन नितिनयुवक मण्डल का बैण्ड, दिगम्बर जैन उच्च माध्यमिक विद्यालय का बैण्ड, आदिनाथ महिला ग्रुप बैण्ड, भक्ति महिला संघ बैण्ड, बीसा नरसिंहपुरा समाज बैण्ड शुरू से अंत तक शोभायात्रा में स्वरलहरियां बिखेर रहे थे।
बच्चों ने दिखाया सैना का जज्बा
शोभायात्रा में दो खुली जीप में 16 से अधिक बच्चे मिलेट्री वेशभूषा में हाथों में आधुनिक गन का प्रतिक लिए हुए चौकसी करते हुए नजर आ रहे थे कि सीमा पर किस तरह हमारे जवान चौकस एवं मुस्तेद रहते है यह संदेश दे रहे थे। शोभायात्रा में दो-दो की कतार में स्केटिंग करते हुए आकर्षक का केन्द्र रहे। पुरे रास्ते 8 से 14 वर्ष के इन बच्चों ने पुरे स्केटिंग करते हुए लोगों का मन मोह लिया।
डीजे पर झूमे युवा : पुरूषों के बीच में जैन गीतों पर बज रहे डीजे पर युवक-युवति एवं उम्र दराज लोग भी मदमस्त होकर झूमते हुए चल रहे थे। साथ ही बहिने भी पीछे नहीं रही, कुछ महिलाएं तो सामुहिक रूप से भगवान के गीत गाते हुए पुरे रास्ते में झूमते हुए चल रही थी। नन्हे मुन्ने बच्चे सफेद परिधान में आकर्षण का केन्द्र बने हुए थे। (शेष पेज ८ पर)
इन्होंने किया संचालन
शोभायात्रा का सफल संचालन नीली जिंस, पीला टीशर्ट एवं सफेद टोपी पहने जैन जागृ्रति सेन्टर के अध्यक्ष सुधीर चित्तौडा एवं महामंत्री हेमेन्द्र के नैतृत्व में पूर्व अध्यक्ष महेन्द्र तलेसरा, धर्मेश नवलखा दीपक सिंघवी, चन्द्रप्रकाश चोरडिया, लक्ष्मण शाह, रवि माण्डावत, अरूण मेहता, मनीष गलुण्डिया, प्रवीण नवलखा, बसन्तीलाल कोठीफोडा, नीलेश भण्डारी, नरेश पामेचा, संजय भण्डारी, चन्द्र शेखर चित्तोडा, नितिन लोढा, नरेश गदिया, सुरेश नाहर, भूपेन्द्र गजावत, कमल पोरखना, राकेश छाजेड, सुनील मारू, संजय खाब्या, पवन कोठारी, नरेश मादरेचा, ललित पोरवाल, रैनप्रकाश जैन सहित 150 से अधिक कार्यकर्ता सफल संचालन कर रहे थे। महिला संगठनों को परिषद की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष विजयलक्ष्मी गलुण्डिया, मंजू फत्तावत, सोनल सिंघवी, कल्पना बोहरा, अंशु पोखरना, ऋतु मारू, उर्मिला नागोरी, मीना चोरडिया, मुक्ता चित्तौडा, भावना शाह, ममता जैन, इन्दिरा मेहता सहित 35 कार्यकर्ताओं द्वारा संचालन कर रही थी।
जनप्रतिनिधियों ने भी किया स्वागत
ऐतिहासिक शोभायात्रा का हाथीपोल पर सांसद अर्जुनलाल मीणा, महावीर युवा मंच के मुख्य संरक्षक एवं भाजपा नेता प्रमोद सामर और देहात भाजपा जिलाध्यक्ष भंवर सिंह पंवार ने समर्थकों के साथ स्वागत किया। वहीं देहली गेट चौराहे पर पूर्व सांसद रघुवीर सिंह मीणा ने अपने समर्थकों के साथ शोभायात्रा का स्वागत किया। शोभायात्रा के समापन पर नगर विधायक एवं प्रतिपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने करीब आधे घण्टे तक समापन स्थल पर रूककर जैन समाज का अभिवादन स्वीकार करते हुए सभी को महावीर जयन्ती की शुभकामनाएं दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.