Friday , 24 May 2019
Top Headlines:
Home » Jaipur » जश्न मना रही निम्स यूनिवर्सिटी की चार कश्मीरी छात्राओं के खिलाफ देशद्रोह का केस

जश्न मना रही निम्स यूनिवर्सिटी की चार कश्मीरी छात्राओं के खिलाफ देशद्रोह का केस

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। जयपुर-दिल्ली राजमार्ग पर चंदवाजी स्थित निम्स यूनिवर्सिटी में अध्ययनरत चार कश्मीरी छात्राओं के खिलाफ पुलिस ने देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस संबंध में निम्स यूनिवर्सिटी की प्रबंधक सुशीला चाहर ने चंदवाजी थाने में चारों छात्राओं के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज करवाई थी। इस पर चंदवाजी थाना पुलिस ने आईपीसी व आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया। जल्द ही गिरफ्तार करने की कार्रवाई की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जम्मू के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद इन चारों कश्मीरी छात्राओं ने केक काटकर जश्न मनाया था। इसका पता चलते ही हॉस्टल में रहने वाले छात्र-छात्राएं आक्रोशित हो गए। वहीं, कश्मीरी छात्राओं के जश्न मनाने की खबर फैलते ही शनिवार को सामाजिक संगठन भी निम्स यूनिवर्सिटी पहुंच गए। वहां जमकर विरोध हुआ।
वे स्थानीय छात्र छात्राओं के साथ यूनिवर्सिटी के गेट पर ही धरने पर बैठ गए। तब निम्स यूनिसर्विटी प्रशासन ने चारों छात्राओं को विश्वविद्यालय से निलंबित कर दिया था। वहीं सूचना मिलने पर चंदवाजी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और सुरक्षित रूप से चारों छात्राओं को हॉस्टल कैंपस से निकालकर थाने ले आई। इसी बीच भारी नारेबाजी व विरोध हुआ। इसके वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गए।
इसके बाद निम्स की मैनेजमेंट प्रबंधक सुशीला चाहर ने इन चारों छात्राओं (बीएससी ओटी द्वितीय वर्ष की तलवीन मंजूर, बी फार्मा द्वितीय वर्ष की इकरा, बीएससी ओटी द्वितीय वर्ष की जोहरा नजीर और बीएससी आरआईटी द्वितीय वर्ष की उजमा नजीर) के खिलाफ भारत विरोधी तथा धर्म विरोधी गतिविधियां करना तथा मोबाइल पर वायरल कर धर्म को ठेस पहुंचाने को लेकर शिकायत दी।शहीदों पर टिप्पणी करने पर प्रधानाचार्य गिरफ्तारजयपुर (कार्यालय संवाददाता)। प्रतापगढ़ जिले के कुणी के राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य मोहम्मद इकराम अजमेरी को पुलवामा शहीदों पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रधानाचार्य के सैनिकों पर अभद्र टिप्पणी करने बाद इस मामले को लेकर शनिवार को लोगों ने करीब पांच घंटे तक मंदसौर हाईवे जाम कर दिया, इसके बाद इकराम को निलम्बित कर दिया गया। बाद में उसे इस मामले में गिरफ्तार भी कर लिया गया। इस मामले में स्कूल के पीटीआई शहजाद हुसैन को भी एपीओ कर दिया गया। उल्लेखनीय है कि पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए शुक्रवार को छात्रों की ओर से स्कूल में श्रद्धांजलि सभा करने की तैयारी की जा रही थी, लेकिन इकराम अजमेरी ने शहीदों पर अभद्र टिप्पणी करते हुए छात्रों को श्रद्धांजलि सभा नहीं करने दी। इकराम द्वारा सैनिकों को रेपिस्ट बताने सहित अन्य आरोप सामने आये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.