Sunday , 25 August 2019
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » ‘जल्द लौट जाएं श्रद्धालु-पर्यटक

‘जल्द लौट जाएं श्रद्धालु-पर्यटक

आतंकी खतरा : रोकी गई अमरनाथ यात्रा
श्रीनगर (एजेंसी)। अमरनाथ यात्रा पर आतंकी खतरे की खुफिया सूचना के बाद जम्मू-कश्मीर सरकार ने अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों के लिए अडवाइजरी जारी की है। सरकार ने तीर्थयात्रियों और पर्यटकों से कश्मीर घाटी में अपने ठहराव और यात्रा की अवधि कम करने को कहा है। इतना ही नहीं, अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों से जितना जल्दी हो सके, उतना जल्दी कश्मीर घाटी से लौटने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा गया है।
जम्मू-कश्मीर सरकार के गृह विभाग की ओर से जारी सुरक्षा एडवाइजरी में कहा गया है कि अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमलों के इनपुट मिलने और कश्मीर की सुरक्षा बढ़ाने के मकसद से अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों की सुरक्षा को देखते हुए घाटी में तत्काल प्रभाव से सभी तरह की यात्रा पर रोक लगाई जा रही है। अमरनाथ यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे अपनी यात्रा को तुरंत खत्म करें और जितनी जल्दी हो सके घाटी को छोड़ दें।
अपने एडवाइजरी में जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा कि राज्य में बड़े आतंकी हमले का इनपुट है। आप लोग जल्द से जल्द अपनी यात्रा को पूरी करके लौट जाएं। इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा को रोक दी गई है। ये यात्रा 15 अगस्त तक चलनी थी, लेकिन रोक दी गई है।
उधर जम्मू-कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रविंद्र रैना ने कहा, अमरनाथ यात्रा तय शेड्यूल के मुताबिक 15 अगस्त तक जारी रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम हैं और डर का कोई माहौल नहीं है। सभी यात्री चाहें तो पवित्र गुफा के दर्शन कर सकते हैं, मगर गृह विभाग द्वारा जारी अडवाइजरी का पालन किया जाना चाहिए।
खराब मौसम की वजह से फिलहाल यात्रा निलंबित : खराब मौसम की वजह से जम्मू रूट से अमरनाथ यात्रा को 4 अगस्त तक के लिए निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तक चलनी है। इसके लिए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा बलों ने नाकाम की आतंकी साजिश बता दें कि सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा पर बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया। सीआरपीएफ, जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। इस दौरान मौजूद अधिकारियों ने बताया कि अमरनाथ यात्रियों पर स्नाइपर से हमले की कोशिश की गई, लेकिन सुरक्षाबलों ने इसे पूरी तरह विफल कर दिया।पाकिस्तान रच रहा यात्रा में गड़बड़ी की साजिश : सेनासेना की तरफ से बताया गया कि पाकिस्तानी सेना लगातार कश्मीर में शांति भंग करने का प्रयास करती है। कई बार सर्च ऑपरेशन के दौरान बारूदी सुरंगों का भी पता चला लेकिन उनके सभी प्रयास विफल कर दिए गए। सेना के अधिकारी ने कहा कि कश्मीर में घाटी में स्थिति सुधरी है और आतंकियों की संख्या में भी कमी आई है। लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लन ने कहा कि सुरक्षा बलों ने अमरनाथ यात्रा के रूट पर आतंकियों के एक ठिकाने से सर्च ऑपरेशन के दौरान एक अमेरिकन स्नाइपर राइफल एम-24 बरामद की है। इसके अलावा पाकिस्तान में निर्मित बारूदी सुरंग और अन्य विस्फोटक बरामद हुए हैं। बरामद हुई माइन का इस्तेमाल पाकिस्तानी सेना करती है। अमरनाथ यात्रा पर रोक लगाने पर बोले शाह-
एडवाइजरी की गंभीरता को समझना होगा
अमरनाथ यात्रा पर रोक लगाने पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि ये साधारण एडवाइजरी नहीं है। सूत्रों के अनुसार गृह मंत्री ने कहा कि लोगों को एडवाइजरी की गंभीरता को समझना होगा। सरकार ने यात्रियों से गुजारिश की है कि वह जल्द से जल्द अपने घर वापस चले जाए। अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमलों के इनपुट मिलने और कश्मीर की सुरक्षा बढ़ाने के मकसद से अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों की सुरक्षा को देखते हुए घाटी में तत्काल प्रभाव से सभी तरह की यात्रा पर रोक लगाई जा रही है। अमरनाथ यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे अपनी यात्रा को तुरंत खत्म करें और जितनी जल्दी हो सके घाटी को छोड़ दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*