Tuesday , 16 July 2019
Top Headlines:
Home » Political » Elections Update » ‘चौकीदार चोर है’ पर राहुल ने माफी मांगी

‘चौकीदार चोर है’ पर राहुल ने माफी मांगी

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल खरीद मामले में सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए दिए अपने ‘चौकीदार चोर हैÓ बयान पर खेद जताया है। सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने चुनावी जोश में ऐसा कह दिया था। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के नोटिस के जवाब में यह भी कहा कि भविष्य में कभी दोबारा कोर्ट को लेकर किसी प्रकार की टिप्पणी या निष्कर्ष का इस्तेमाल मीडिया के सामने राजनीतिक बयान में तब तक नहीं करूंगा जब तक कि कोर्ट में ऐसी बात रिकॉर्ड में न कही गई हो।
गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने लीक दस्तावेजों को वैध मानते हुए राफेल डील पर पुनर्विचार याचिका स्वीकार की थी। इसके बाद राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया है कि चौकीदार चोर है। राहुल के इस बयान पर भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने याचिका दायर कर राहुल गांधी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना की शिकायत दर्ज कराई थी।
लेखी की याचिका पर सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने कहा था कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की है। कोर्ट ने कहा था कि राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के बयान को गलत तरह से पेश किया है। (शेष पेज 8 पर)सुको में कहा- उत्तेजना में दिया बयानराहुल का नामांकन वैध
अमेठी (एजेंसी)। अमेठी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नामांकन सही पाया गया है। कुछ विपक्षी प्रत्याशियों ने राहुल पर नामांकन में गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए आपत्ति जाहिर की थी। एक निर्दलीय प्रत्याशी ने राहुल की नागरिकता और शैक्षिक योग्यता पर सवाल उठाते हुए अमेठी से उनका नामांकन रद्द करने की मांग की थी। जांच के बाद आपत्तियों को खारिज कर दिया गया है।
अमेठी के रिटर्निंग ऑफिसर ने कहा है कि राहुल के नामांकन पत्र में कोई खामी नहीं है और उनका नामांकन वैध पाया गया है। दरअसल अमेठी के रिटर्निंग ऑफिसर से राहुल के खिलाफ शिकायत की गई थी। राहुल गांधी की शैक्षिक योग्यता को लेकर उठे सवाल पर वकील केसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*