Wednesday , 17 July 2019
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » गहलोत-कमलनाथ के भी इस्तीफे ?

गहलोत-कमलनाथ के भी इस्तीफे ?

कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों संग राहुल की बैठक
नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस के भीतर एक तरफ इस्तीफों की झड़ी लग गई है तो वहीं पार्टी अध्यक्ष के पद को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ अहम बैठक की। इसके बाद जब पत्रकारों ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से उनके और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा इस्तीफे की पेशकश किए जाने की खबरों पर सवाल किए तो उन्होंने इससे इनकार भी नहीं किया। गहलोत ने कहा कि इस्तीफे की पेशकश आज क्या की, जिस दिन चुनाव के परिणाम आए थे, उस दिन इस्तीफे की पेशकश ही होती है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्रियों को अपने इस्तीफे देने होते हैं और उसके बाद हाईकमान फैसला करते हैं कि आगे क्या करना है। गहलोत ने यह भी कहा कि चुनी हुई सरकारों को स्टेबल रखना ही होता है। पूरी वर्किंग कमिटी ने राहुल गांधी को अधिकृत किया है वह जो चाहें फैसला करें, पुनर्गठन करें, रिप्लेसमेंट करें, कुछ भी करें और यह फैसला 25 जून को ही हो चुका है।
बैठक के बारे में गहलोत ने कहा, राहुल गांधी को आज हमने कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावनाओं से अवगत कराया। हमने 2 घंटे तक बातचीत की। हम सभी ने कहा कि चुनाव में हार-जीत होती रहती है, पहले भी हुई है। उन्होंने हमारी बात को ध्यान से सुना है। हमने अपनी बात दिल से कही है। हम उम्मीद करते हैं कि (शेष पेज 8 पर)’25 सीटों पर हुई हार की जिम्मेदारी हम सबकीÓ
जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। लोकसभा चुनाव में राजस्थान की सभी 25 सीटों पर हुई कांग्रेस की हार के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को पहली बार कहा कि हार की जिम्मेदारी हम सबकी है। अब तक हार की जिम्मेदारी लेने से बचते रहे गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि हार की जिम्मेदारी हम सभी की है। गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि हमारा दृढ़ विश्वास है कि वर्तमान परिदृश्य में केवल राहुल गांधी ही पार्टी का नेतृत्व कर सकते हैं, देश और देशवासियों के प्रति उनकी प्रतिबद्धता बेमिसाल है। हम सब कांग्रेस अध्यक्ष का सम्मान करते है। सोमवार को कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने राहुल गांधी से मुलाकात की। इस मुलाकात से पहले गहलोत ने ट्वीट किया। उधर, हार के बाद से गहलोत और उप मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान तेज होती जा रही है। (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*