Wednesday , 20 November 2019
Top Headlines:
Home » Hot on The Web » कर्नाटक का नाटक खत्म , कुमारस्वामी सरकार गिरी

कर्नाटक का नाटक खत्म , कुमारस्वामी सरकार गिरी

विश्वास मत में कांग्रेस-जेडीएस को 99, भाजपा को 105 वोट मिले
बेंगलुरू (एजेंसी)। कर्नाटक में 14 महीने पुरानी एचडी कुमारस्वामी सरकार के गिरने के साथ ही कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक का अंत हो गया है। मंगलवार शाम को विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव पर वोटिंग में सत्ता पक्ष को महज 99 वोट मिले, जबकि भाजपा के पक्ष में 105 वोट पड़े। सदन में उस समय कुल 204 विधायक मौजूद थे। विश्वास मत में जीत के बाद भाजपा के विधायक विक्ट्री साइन दिखाते नजर आए। उधर, कांग्रेस और जेडीएस के खेमे में मायूसी दिखी।
बता दें कि 15 बागी विधायकों के इस्तीफे के बाद भी कांग्रेस और जेडीएस दोनों पार्टियां सरकार को बचाने के लिए पूरा जोर लगा रही थीं। बीते कई दिनों से दोनों दल विश्वास मत प्रस्ताव को टालने की कोशिश में थे, आखिरकार मंगलवार को वोटिंग हुई और कुमारस्वामी की सरकार का यह आखिरी दिन साबित हुआ। येदियुरप्पा को मिलेगा सरकार गठन का न्योता
विश्वास मत प्रस्ताव में सरकार गिरने के बाद एचडी कुमारस्वामी ने पद से इस्तीफा भी दे दिया है। जल्दी ही सूबे के गवर्नर वजुभाई वाला भाजपा के नेता बीएस येदियुरप्पा को सरकार गठन का न्योता दे सकते हैं। विधायकों को खड़ा कर की गई गिनती
इससे पहले स्पीकर रमेश कुमार ने विधायकों को खड़ाकर सत्ता और विपक्ष के नंबरों की गिनती की। स्पीकर ने विधानसभा में हर पंक्ति को अलग-अलग खड़ा कर अधिकारियों से विधायकों की गिनती कराई। अधिकारियों ने पहले सत्ता पक्ष के सदस्यों की गिनती की और फिर उसके बाद विपक्षी विधायकों को गिना गया। संभवत: ऐसा पहली बार हुआ है कि जब सदन में विधायकों की गिनती फिजिकली की गई है। विश्वास मत जीतकर बोले येदि
आएगा ‘नया दौरÓ
बेंगलुरू (एजेंसी)। कर्नाटक विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव में जीत हासिल करने के बाद भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा ने इसे लोकतंत्र की विजय करार दिया है। विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव जीतने के बाद मीडिया से बातचीत में येदियुरप्पा ने कहा, कर्नाटक की जनता कुमारस्वामी सरकार से त्रस्त थी। मैं कर्नाटक के लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि राज्य में अब विकास का नया दौर शुरू होगा।
येदियुरप्पा ने कहा कि मैं किसानों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि आने वाले दिनों में हम उन्हें अधिक महत्व देंगे। उनके हित में जल्दी ही जरूरी फैसले लेंगे। कर्नाटक भाजपा ने इस जीत को लेकर ट्वीट किया, यह कर्नाटक के लोगों की जीत है। यह भ्रष्ट और अपवित्र गठबंधन के दौर का अंत है। हम लोगों को स्थिर और मजबूत सरकार देने का वादा करते हैं। हम मिलकर एक बार फिर से कर्नाटक को समृद्ध राज्य बनाएंगे। (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*