Saturday , 21 September 2019
Top Headlines:
Home » Political » उ.प्र. में योगी का कोई सानी नहीं

उ.प्र. में योगी का कोई सानी नहीं

नई दिल्ली । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकप्रियता के मामले में अपने प्रतिद्वंद्वियों से कहीं आगे हैं। लेकिन जहां तक योगी सरकार के कामकाज का सवाल है तो 41 फीसदी प्रतिभागी इससे संतुष्ट हैं तो 37 फीसदी नाखुशी जता रहे हैं। ये निष्कर्ष इंडिया टुडे पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज के तीसरे संस्करण से निकल कर आया है।
राफेल डील
79 फीसदी लोग नहीं जानते
सर्वे के मुताबिक जिस राफेल डील को लेकर केंद्र की राजनीति गर्म है और कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रही है, उस राफेल डील के बारे में देश के सबसे बड़े सूबे के 79′ प्रतिभागी कुछ नहीं जानते। जिन वोटरों को राफेल डील के बारे में जानकारी है, उनमें से 82 फीसदी का कहना है कि केंद्र सरकार को ये सार्वजनिक नहीं करना चाहिए कि फ्रांस से राफेल विमान कितने में खरीदा गया। राजनीतिक नब्ज पर नजर रखने वाले देश के पहले और इकलौते साप्ताहिक कार्यक्रम के मुताबिक योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री के लिए लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। चुनावी सर्वेक्षण में हिस्सा लेने वाले 43 फीसदी प्रतिभागियों ने योगी को वोट दिया। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को 29 फीसदी प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। बीएसपी सुप्रीमो मायावती को 18 फीसदी प्रतिभागियों ने मुख्यमंत्री के लिए पहली पसंद बताया। हालांकि योगी और भाजपा के लिए ये चिंता की बात होगा कि सर्वे में 47 फीसदी प्रतिभागियों ने माना कि अगर समाजवादी पार्टी और बीएसपी में महागठबंधन होता है तो इससे भाजपा को नुकसान होगा। वहीं 32 फीसदी लोगों की राय थी कि महागठबंधन से भाजपा को कोई नुकसान नहीं होगा। जबकि 21 फीसदी प्रतिभागी ऐसे थे जिन्होंने कहा कि इस बारे में वो पक्के तौर पर कुछ नहीं कह सकते। 41′ योगी सरकार के कामकाज से संतुष्टनिष्कर्षों के मुताबिक सर्वेक्षण में हिस्सा लेने वाले 41 फीसदी प्रतिभागी योगी सरकार के कामकाज से संतुष्ट दिखे। वहीं 37 प्रतिशत ने योगी सरकार के कामकाज पर नाखुशी जताई और 20 फीसदी ने इसे औसत बताया। सर्वे में जब देश के अगले प्रधानमंत्री के लिए पसंद के बारे में पूछा गया तो राज्य से 48′ प्रतिभागियों ने नरेंद्र मोदी के पक्ष में वोट दिया। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 22′ प्रतिभागियों ने प्रधानमंत्री के तौर पर पहली पसंद बताया। सर्वे में 9 फीसदी लोगों ने मायावती को भी प्रधानमंत्री के तौर पर अपनी पसंद बताया। जहां तक केंद्र में मोदी सरकार के कामकाज का सवाल है तो उत्तर प्रदेश में सर्वे के 53 फीसदी प्रतिभागी इससे संतुष्ट दिखे। 28 फीसदी प्रतिभागियों ने मोदी सरकार के कामकाज पर नाखुशी जताई। वहीं 16 फीसदी प्रतिभागियों ने मोदी सरकार के कामकाज को औसत बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*