Saturday , 20 July 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » आजम के गुर्गे को जेल में जान का खतरा

आजम के गुर्गे को जेल में जान का खतरा

कोर्ट ने दिये विशेष सुरक्षा के निर्देश
उदयपुर। गैंगस्टर आजम के कहने पर कन्नू कुमावत को जान से मारने की नियत से फायरिंग करने वाले आरोपी की निशानेही से पुलिस ने पिस्टल व दो जिंदा कारतूस बरामद किये, वही ंआरोपी के अधिवक्ता ने शनिवार को अदालत में पेश किया कि उसे जेल में जान से खतरा है इसलिए इसे विशेष सुरक्षा मुहैया कराई जाए।

इस पर आरोपी को शनिवार को रिमांड अवधि समाप्त होने पर जेल भेज दिया वहीं जेल अधीक्षक को विशेष सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिये।
मुम्बई में बैठे गैंगस्टर मोहम्मद आजम के कहने पर प्रोपर्टी डीलर एवं एचएस सहेलीनगर निवासी कन्हैयालाल कुमावत उर्फ कन्नू को जान से मारने की नियत से गत 16 जुलाई को बापू बाजार में गोली मार दी थी जिससे वह घायल हो गया था, इस मामले में रिमांड पर चल रहे शिक्ला बिल्डिंग गोपीगंज संत रविदास नगर भदोही यूपी हाल सिलावटवाड़ी निवासी शुभम भटनागर उर्फ आदित्य सिंह उर्फ नरेश उर्फ खालिद पुत्र राजीव भटनागर से रिमांड अवधि के दौरान डीपीएस स्कूल के पास बनी पहाड़ी पर छिपा कर रखी देशी पिस्टल व दो जिंदा कारतूस बरामद किये थे, शनिवार को रिमांड अवधि समाप्त होने पर अदालत में पेश किया जहां उसे जेल भेज दिया।

आरोपी की ओर से अधिवक्ता अखिलेश मोगरा ने प्रार्थना पत्र पेश किया जिसमें बताया कि अपराधिक गैंग वालों से आदित्य सिंह की जेल में रहने के दौरान जान से मारने की धमकी दी जा रही है। उसे जान का खतरा है। यदि सामान्य सुरक्षा में सभी कैदियों के साथ पेशी पर लाया गया तो उसकी जान का खतरा रहेगा, उसे विशेष सुरक्षा में न्यायालय में पेश किया जाए। अधिवक्ता ने बताया कि पूर्व में रंजिश के चलते इमरान कुंजड़ा ने न्यायालय बैरक में वसीम चूहा की गला रेतकर हत्या कर दी थी। यह परिणिति इसके साथ न हो जाए। अतिरिक्त सिविल न्यायालय एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम वर्ग शहर दक्षिण क्रम-2 की पीठासीन अधिकारी मनीषा चौधरी द्वितीय ने केन्द्रीय जेल अधीक्षक को आदित्य सिंह को जान का खतरा होने से विशेष सुरक्षा मुहैया कराये जाने के निर्देश दिये।

आरोपी को शनिवार को रिमांड अवधि समाप्त होने पर उसे जेल भेज दिया। उल्लेखनीय है कि इस फायरिंग के मामले में पुलिस ने पंकज कुमार साहनी को मौके से गिरफ्तार कर बाइक बरामद की थी। जबकि उसके साथी भीमा उर्फ भीम सिंह को गिरफ्तार कर एक देशी पिस्टल मय मैगजीन के साथ गिरफ्तार किया था व रैकी करने के आरोप में इदरीस शेख व मोहम्मद नाईक को गिरफ्तार कर स्कूटी जब्त की थी। यह सभी आरोपी अभी न्यायिक अभिरक्षा में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*