Thursday , 21 June 2018
Breaking News
Home » Udaipur » स्मार्ट सिटी के काम बंद करवाने का प्रस्ताव पारित

स्मार्ट सिटी के काम बंद करवाने का प्रस्ताव पारित

  • कर दो, टंटा ही खत्मः कटारिया
  • 20 स्मार्ट सिटी में उदयपुर टेण्डर करने में नम्बर वन ऐसे ही नहीं आया

Gulab-chand-katariaउदयपुर। पार्षदों द्वारा बार-बार स्मार्ट सिटी में कामों की जानकारी नहीं देने पर नाराज होकर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि सभी पार्षद एक प्रस्ताव पारित कर ले कि स्मार्ट सिटी के सारे काम बंद करवा दिए जाएं, ताकि टंटा ही खत्म हो जाए। कटारिया ने कहा कि 20 स्मार्ट सिटी में उदयपुर टेण्डर करने में नम्बर वन पर ऐसे ही नहीं हो गया है। सदन में पार्षद रेखा कुंवर व पंकज भण्डारी ने उनके वार्ड में काम नहीं होने का मामला उठाया तो निर्माण समिति अध्यक्ष ने कहा कि लोगों ने ही काम का विरोध किया था, इसी कारण काम नहीं हुआ। बाद में दोनों ने कहा कि यदि ठेकेदार काम करना चाहता है वे साथ में खड़े होकर काम करवाने को तैयार है। इधर इसी दौरान पार्षद सिद्धार्थ सिहाग ने कहा कि स्मार्ट सिटी में पार्षदों से क्या काम हो रहे कोई पूछता ही नहीं। ऐसे में चर्चा करने की क्या आवश्यकता है। स्मार्ट सिटी में हाल में ही 537 करोड़ का टेण्डर हुआ था और पार्षदों को क्यों नहीं बताया जा रहा है। ऐसे क्या गुप्त काम हो रहे है। लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है। सरकार की मंशा यह नहीं थी। हमने भी स्मार्ट सिटी में सहयोग किया है। इस पर महापौर चन्द्रसिंह कोठारी ने कहा कि स्मार्ट सिटी के सीईओ बताएंगे। इस पर आयुक्त ने कहा कि एसीईओं महापौर को बनाया है। इस पर कटारिया ने कहा कि अगर आप स्मार्ट सिटी से राजी नहीं हो तो प्रस्ताव पारित कर दो कि स्मार्ट सिटी के काम बंद कर दिए जाएं तो सारा टंटा ही समाप्त हो जाएगा। कटारिया ने कहा कि मैने व्यक्तिगत रूप से 100 बार फोन किए तो यह टेण्डर हुआ है। कटारिया ने कहा कि देश के 20 स्मार्ट शहरों में उदयपुर टेण्डर करने में नम्बर वन पर है। कटारिया ने कहा कि इतनी मेहनत से शहर के विकास के लिए 1200 करोड़ रूपए लाएं है और इस पर भी सभी को आपत्ति हो रही है। इस पर अतुल चंडालिया ने कहा कि पार्षदों की मंशा है कि जिन 18 वार्डों को स्मार्ट सिटी में शामिल किया गया है उन पार्षदों को भी उनके वार्ड में होने वाले कामों की जानकारी दी जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*