Saturday , 26 May 2018
Breaking News
Home » Udaipur » सामूहिक विवाह सम्मेलन में 21 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

सामूहिक विवाह सम्मेलन में 21 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

विधायक राठौड़ ने रावणा राजपूत समाज के बच्चों के लिये होस्टल की भूमि की घोषणा की

आमेट। आमेट में श्री मेवाड़ रावणा राजपूत क्षत्रिय समाज के तत्वावधान में रविवार को नगर के राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय के खेल मैंदान पर आयोजित हुए तुलसी विवाह व प्रथम सामूहिक विवाह सम्मेलन में 21 जोड़े वैवाहिक परियण सूत्र में बंधे। वैवाहिक सम्मेलन को लेकर नगर के राजकीय माध्यमिक विधालय के खेल मैदान पर प्रातः 7 बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ तुलसी माताजी का थम्ब व गणपति -कलश स्थापना की गई।
तत्पश्चात सुबह 9 बजे से सभी वर वधू की गाजे बाजे के साथ सामूहिक बिन्दौली शुरु हुई जो स्टेशन रोड़¸ होते हुए पुनः खेल मैदान परिसर वैवाहिक स्थल पर पहुंची। सम्मेलन में संतोष भारती महाराज, महामंडलेश्वर (जालोर), मंहत रतन धोरा (बाड़मेर) के सान्निध्य में हुए सम्मेलन में क्षेत्र के विख्यात पण्डित भंवरलाल पालीवाल, पण्डित मोतीलाल पालीवाल के सान्निध्य में 21 पण्डितों ने वैवाहिक पांडाल मे वर वधुओं को परम्परागत तरीके से वैवाहिक रस्म अदा करवाई।
इस अवसर पर सम्मेलन में आयोजित समारोह में अथिति के रूप में वर वधुओं को आशिवांद देने के लिए अखिल भारतीय रावणा राजपूत सेवा संस्थान के संस्थापक किशनसिंह. उदयसिंह टांक.संरक्षक गिरवरसिंह पडियार. अध्यक्ष अर्जुन सिह पंवार. प्रदेशाध्यक्ष रणजीतसिंह सोडाला, विधायक सुरेन्द्रसिंह राठोड़, सेवा संस्थान के प्रदेश युवा अध्यक्ष पहाड़सिंह सोलकी. रावणा राजपूत क्षत्रिय महासभा सेवा संस्थान के जिलाध्यक्ष मकन सिंह पडियार, वैवाहिक समिति के अध्यक्ष लालसिह, जिला प्रभारी जयसिंह भाटी, शंभूसिंह बुकरडा, सांवरसिह डोडिया, माधवसिंह पंवार, पुरणसिह सांखला बड़ी संख्या में पदाधिकारी सदस्य उपस्थित रहे।
सम्मेलन में विधायक सुरेन्द्रसिंह राठौड़ ने रावणा राजपूत समाज के पढने वाले बालकों के लिये आमेट में हॉस्टल की भूमि उपलब्ध करवाने की घोषणा की। समारोह का मंच संचालन राजेन्द्रसिंह गहलोत व अमरसिंह चोहान ने किया। आमेट में प्रथम बार हुए रावणा राजपूत क्षत्रिय महासभा के सामूहिक विवाह सम्मेलन को लेकर सुबह से भी नगर मे भारी चहलपहल रही रहीं क्षेत्र के समाज के लोगों में भी भारी उत्साह देखी गई। वर वधुओं के साथ बड़ी संख्या में उनके परिजन व समाज के लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*