Friday , 24 November 2017
Breaking News
Home » Udaipur » राष्ट्रीय कयाकिंग मे पहली बार राजस्थान टीम ने फहराया परचम

राष्ट्रीय कयाकिंग मे पहली बार राजस्थान टीम ने फहराया परचम

उदयपुर। भारतीय कयाकिंग एवं केनोइंग संघ के तत्वावधान मे मध्य प्रदेश अमे’चोर कयाकिंग एवं केनोईंग संघ की मेजबानी मे 29 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक भोपाल की लोअर झील मे आयोजित राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में राजस्थान के खिलाडिय़ों ने 9 पदक हांसिल कर पहली बार राजस्थान का परचम लहराया है। प्रतियोगिता में पदक प्राप्त करने के बाद मंगलवार को सभी खिलाडिय़ों का राजस्थान कयाकिंग एवं केनोइंग एसोसिएशन की ओर से फतहसागर पाल पर सम्मान समारोह आयोजित किया गया।
एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष चंद्रगुप्त सिंह चौहान ने बताया कि राजस्थान टीम में नेहा कुमावत ने 15 कि.मी. मेराथन मे 1 स्वर्ण, एक हजार मीटर स्प्रिंट रेस मे 1 रजत, पांच सौ मीटर स्प्रिंट रेस मे 1 कांस्य पदक जीता। नितिन बीस्ट ने पांच सौ मीटर स्प्रिंट रेस मे 1 रजत, 15 $िक.मी. मेराथन मे 1 कांस्य, एक हजार मीटर के- 2 रेस मे 1 कांस्य तथा अनुग्रह साइमन ने एक हजार मीटर के- 2 रेस मे 1 कांस्य व दो सौ मीटर स्प्रिंट रेस मे 1 कांस्य पदक प्राप्त किया।चौहान ने बताया कि राजस्थान में पहली बार नियुक्त हुए कयाकिंग कोच निश्चय सिंह चौहान द्वारा रोजाना ब’चो को फतहसागर पर नि:शुल्क सेवाएं दी गयी और जिसके बाद टीम मैनेजर गोपी कुमावत ओर कुलदीप पालीवाल के नेतृत्व मे राजस्थान के खिलाडिय़ों ने अपनी मेहनत से इन 9 पदको पर अपना कब्जा जमाया है। इस दौरन चंद्रगुप्त सिंह चौहान ने घोषणा की की संघ द्वारा स्वर्ण पदक विजेता नेहा कुमावत को एक बोट भेंट की जाएगी। सम्मान समारोह के दौरान आर. के . धाबाई, महेश पिम्पलकर, प्रदीप पालीवाल, त्रिलोक वैष्णव, दीपक गुप्ता, दिलीप सिंह चौहान, तेज शंकर पालीवाल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*