Tuesday , 21 November 2017
Breaking News
Home » Udaipur » युवती को ब्लेकमेल कर एक लाख की मांग करने वाला गिरफ्तार

युवती को ब्लेकमेल कर एक लाख की मांग करने वाला गिरफ्तार

arrestउदयपुर। शहर के हिरणमगरी थाना क्षेत्र में युवती से मोबाइल पर दोस्ती करने के बाद उसके फोटो खींच कर ब्लेकमेल कर उससे जबर्दस्ती शारीरिक संबंध बनाने और एक लाख रूपए की मांग करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
हिरणमगरी थानाधिकारी संजीव स्वामी ने बताया कि हिरणमगरी थाना क्षेत्र में रहने वाली 25 वर्षीय युवती ने गत 27 अक्टूबर को रिपोर्ट दर्ज कराई कि आज से ठीक दो वर्ष पूर्व उसके मोबाइल पर एक फोन आया। उसने गलत नम्बर बता कर फोन काट दिया। पुन: अगले दिन आया, फिर काट दिया। इस तरह फोन करने वाले युवक ने पांच-दस दिन तक लगातार फोन किया। वह काटती रही, आखिरकार युवती ने फोन उठाया तो आरोपी ने युवती को अपनी बातों के जाल में फंसा और मिलने के लिए बुलाया। वह उससे आवरी माता के मंदिर मिलने गई जहां से आजाद नगर सेक्टर-3 निवासी गिरीश उर्फ चींटू उर्फ रूद्र प्रताप सिंह पुत्र दौलत कुमार राव स्कूटी पर बिठा कर सेक्टर-4 कैफे सेंटर ले गया जहां उसके साथ अश्लील हरकतें की। 8 अक्टूबर को फोन पर बताया कि उसने जो फोटो खींचे है उनके फोटो क्लिप व वीडियो मोबाइल में बनाए है यदि वह आरोपी युवक के साथ नहीं चली तो ये फोटो और वीडियो मीडिया में वायरल करने की धमकी दी। इस पर वह घबरा कर उसके पास गई। वह उसे स्कूटी पर बिठा कर सगस जी बावजी के पास गली में स्थित आशीर्वाद होटल में ले गया, जहां कमरा किराये पर लिया। कमरे में ले जाकर उसे क्लिपिंग दिखाई और शारीरिक संबंध बनाने के लिए ब्लेकमेल करने लगा और एक लाख रूपए की मांग करने लगा। जबरन दुष्कर्म करने के प्रयास पर शोर मचाने पर आरोपी घबरा कर होटल के कमरे से भाग गया। युवती ने होटल वालों को उक्त घटना के बारे में बताया, लेकिन बदनामी के डर से पुलिस कार्यवाही नहीं की। इसके बाद भी आरोपी चिंटू इस युवती से छेड़छाड़ व ब्लेकमेल कर एक लाख रूपए की मांग कर परेशान करने लगा। इस पर पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया, पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी गिरीश उर्फ चींटू उर्फ रूद्रप्रताप सिंह राव को गिरफ्तार किया और वारदात में उपयोग में ली स्कूटी बरामद कर ली। आरोपी को भादसं की धारा 354-क व 384 में गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जहां उसे न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। आरोपी की ओर से पेश जमानत प्रार्थना पत्र को नामंजूर कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*