Saturday , 23 September 2017
Breaking News
Home » Udaipur » भगवान का रथ रहे सबसे पीछे व बापूबाजार से होकर निकले जगदीश

भगवान का रथ रहे सबसे पीछे व बापूबाजार से होकर निकले जगदीश

उदयपुर। भगवान जगन्नाथ की 25 जून को शहर में निकलने वाली विशाल रथयात्रा की तैयारियों को लेकर शनिवार को विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों और समाज के प्रतिनिधियों की बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में सभी ने सर्व सम्मति से कहा कि भगवान जगदीश के रथ को सबसे आखिर में रखा जाए, ताकि शहरवासी सभी झांकियों के दर्शन कर सकें। इसके साथ ही शहर के चौड़े रास्तों से होकर रथ यात्रा निकालने विशेष रूप से बापूबाजार से रथ यात्रा निकालने भी सुझाव दिया गया। इसको लेकर भी सभी ने सहमति दी। इस पर प्रशासनिक अधिकारियों से बात करने का निर्णय लिया गया।
बैठक में शामिल अधिकांश सदस्य रथयात्रा को संतोषी माता मंदिर से बापू बाजार होकर सुरजपोल अन्दर से अस्थल मंदिर होकर आरएमवी, कालाजी गोराजी से पुन: जगदीश मंदिर तक निकालने पर सहमत थे। सदस्यों का कहना था कि मार्ग खुला व चौड़ा होने पर भक्तगण अधिक से अधिक दर्शन लाभ ले सकेंगे। इसके साथ ही यात्रा मार्ग में होने वाली महाआरती भी बापूबाजार में भव्य तरीके से करवाई जा सकेगी। इस पर समिति के दिनेश मकवाना ने सभी को आश्वस्त किया कि इसके लिए प्रमुख लोगों की एक कमेटी बनाकर शीघ्र ही इस दिशा में ठोस निर्णय कर लिया जावेगा। बैठक में उपस्थित अतिथियों में प्रेमसिंह शक्तावत, जितेन्द्रसिंह सहित प्रमुख लोगों ने जन भावनाओं को देखते हुए रथ को सबसे पीछे व पूर्व रथयात्रा के निर्धारित मार्ग से होते हुए बापूबाजार होकर निकलने पर अपनी सहमति प्रदान की और कहा कि जो लोग रथ को आगे रखने व यात्रा को पुराने व संकरे मार्ग मण्डी होकर निकालना चाहते है उनको भी जन भावनाओं को ध्यान में रखने व अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी हो ऐसा प्रयास करना चाहिये।
बैठक में समिति के रमेश लालवानी ने कहा कि रथयात्रा में शामिल होने वाली प्रत्येक झांकी भगवान के स्वरूप पर आधारित होनी चाहिये सिर्फ विज्ञापन के लिए यात्रा में झांकिया शामिल नहीं हो। सभी प्रमुख लोगों ने रथयात्रा पूर्ण धार्मिक व अनुशासित माहौल में निकालने तथा रथयात्रा सिर्फ भक्ति गीतों व भजनों को ही बजाने के सुझाव दिए । लिए शामिल किया जावेगा। रथयात्रा के अवसर पर शहर व ग्रामीण इलाको में लगने वाले ऊँ अंकित भगवा झण्डों का वितरण जगदीश चौक स्थित कार्यालय पर दिनांक 13 जुन से प्रतिदिन सायंकाल 6.30 बजे से किया जायेगा।
इस अवसर पर समिति के राजेन्द्र सेन ने बताया कि रथयात्रा को लेकर अगली व अन्तिम बैठक 22 जून गुरूवार को इसी जगह आसिन्द की हवेली, जगदीश चौक पर सायंकाल 5.30 बजे रखी गई है। शनिवार को बैठक में अतिथियों के अलावा प्रमुख रूप से उपस्थित डॉ. प्रदीप कुमावत, भूपेन्द्रसिंह भाटी, कमलेन्द्रसिंह, कैलाश जीनगर, इकबाल अली, भेरूलाल सेठ, दिलीप तम्बोली, श्याम बाबा उपस्थित थे।
इन समाजों और संगठनों के पदाधिकारियों ने लिया भाग
बैठक में धर्मोत्सव समिति, अन्नक्षेत्र, मेवाड़ सेना, बजरंग सेना मेवाड़, श्रीराम सेना, शिवदल मेवाड़, प्रताप दल, शूलधारिणी सेना, शिवसेना, माँ आशापुरा माता समिति, श्रीराम बजरंग सेना मेवाड़, हिन्दु जागरण मंच, विश्व हिन्दु परिषद्, श्री कल्लाजी बावजी सेवा समिति, महाकाली सेना, महादेव सेना, हिन्दु महासभा, रूद्र मण्डल, बजरंग बली प्रचार समिति, टाईगर फोर्स हिन्दु महासभा, श्रीयादे समिति, मुच्छाल क्लब, श्रीनामदेव छीपा हितकारिणी सभा, फ्रेण्डस क्लब, हिन्दु जागरण मंच, ओम बन्ना समिति, स्वर्णकार जागृति मंच, श्री सगसजी बावजी मित्र मण्डल, श्री सगसजी सेना, अखिल भारतीय राजपूत संस्थान, बजरंग दल, भाजपा उपस्थित थे।

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*