Friday , 27 April 2018
Breaking News
Home » Udaipur » ठाठ से निकली गणगौर की सवारी

ठाठ से निकली गणगौर की सवारी

मेवाड़ महोत्सव में प्रस्तुतियों से जमा रंग

उदयपुर। चार दिवसीय गणगौर महोत्सव के दूसरे दिन बुधवार को गणगौर की सवारी ठाठ-बाट से निकाली गई। सवारी में शहरवासियों का सैलाब उमड़ पड़ा वहीं गणगौर घाट पर मेले सी रंगत बिखरी रही। इधर मेवाड़ महोत्सव के तहत हुए कार्यक्रमों में भी प्रतियोगियों ने उत्साह से भाग लिया। गणगौर महोत्सव के दूसरे दिन शाम चार बजे बाद से ही शहर के विभिन्न गली-मोहल्लों से बैंडबाजों की धुनों पर गणगौर की सवारियां निकलने का क्रम शुरू हो गया जो शाम सात बजे तक जारी रहा। गणगौर की सवारी में महिलाएं ईशर-गणगौर की प्रतिमाओं को सिर पर धारण कर मंगल गीत गाते हुए चल रह रही थी। यह शोभायात्राएं ठाठ-बाट के साथ जगदीश चौक पहुंची,जहां महिलाओं ने घूमर नृत्य किया। इसके बाद शोभायात्राएं पिछोला झील के गणगौर घाट पर पहुंची,जहां महिलाओं ने घूमर नृत्य के बाद गणगौर के जल आचमन की रस्म निभाई। जल आचमन की रस्म के बाद सभी प्रतिमाओं को उसी ठाठ-बाट के साथ गंतव्य स्थलों पर ले जाया गया।
मेवाड़ महोत्सव के दूसरे दिन पिछोला झील के गणगौर घाट पर लोक कलाकारों ने नृत्यों की प्रस्तुतियां देकर शहरवासियों का मन मोह लिया। इस मौके पर आयोजित राजस्थानी परिधान स्पर्धा में विदेशी सैलानियों ने उत्साह से भाग लिया तथा नृत्यों की भी आकर्षक प्रस्तुतियां दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*