Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » Udaipur » जीजा की जमीन बेचने वाला चचेरा साला और उसका साथी पकड़ा

जीजा की जमीन बेचने वाला चचेरा साला और उसका साथी पकड़ा

पैसों के लिए जीजा ने करवाई थी साले के नाम पर पॉवर ऑफ अटार्नी, पैसे चुकाने के बाद भी बेच दी

arrest_womenउदयपुर। शहर के हाथीपोल थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति ने किसी अन्य से पैसे उधार लेने के लिए अपने चचेरे साले के नाम से अपनी जमीन की पॉवर अटार्नी करवा दी। पैसे देने के बाद भी चचेरे साले ने भूमाफियाओं के साथ मिलकर अपने ही जीजा की जमीन को अन्य को बेच दिया। घटना के बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी चचेरे साले व उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार खुमा पुत्र फूला भील निवासी वाड़ा ढ़ीकली ने अपने चचेरे साले रामलाल पुत्र नाराणलाल भील निवासी कलड़वास, मांगीदास पुत्र भंवरदास निवासी बिलिया और अर्जुनराम पुत्र पन्नालाल भील निवासी झरनो की सराय के खिलाफ मामला दर्ज करवाया कि उसे करीब तीन लाख रूपए की आवश्यकता होने पर उसने अपनी पत्नी मांगीबाई के चचेरे भाई रामलाल से सम्पर्क किया। रामलाल ने खुमा को अपने एक साथी छगनलाल से सम्पर्क करवाया। छगनलाल ने पैसे देने के लिए तो हामी भर दी, परन्तु इसके एवज में गारंटी मांगी और उसकी जमीन की पॉवर ऑफ अटार्नी अपने नाम करवाने के लिए कहा। खुमा ने छगनलाल को पॉवर ऑफ अटार्नी करवाने से इंकार कर दिया, परन्तु अपने साले रामलाल के नाम पर पॉवर ऑफ अटार्नी कराने पर राजी हो गया व 22 सितम्बर को पॉवर ऑफ रामलाल के नाम पर करवाकर 3 लाख रूपए प्राप्त भी कर लिए। निर्धारित समय पर पैसों का ब्याज सहित पैसे चुकाकर वह दिसम्बर माह में रामलाल से मूल पॉवर ऑफ अटार्नी लेकर चला गया, लेकिन उसने रजिस्ट्रार कार्यालय में इस पॉवर ऑफ अटार्नी को निरस्त नहीं करवाया। बाद में जब भूमाफियाओं को पता चला तो भूमाफियाओं ने रामलाल को अपने झांसे में लिया और रामलाल ने अपने एक साथी मांगीदास के साथ मिलकर रजिस्ट्रार कार्यालय से पॉवर ऑफ अटार्नी निकलवाई और इसके माध्यम से इस जमीन को अर्जुनराम को 1 जनवरी को बेच दी। अर्जुनराम रजिस्ट्री करवाने के बाद कब्जा लेने के लिए गया तो तब जाकर खुमा भील को पता चला और उसने हाथीपोल थाने में मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही करते हुए आरोपी चचेरे साले रामलाल और उसके साथ मांगीदास को गिरफ्तार कर लिया। प्रारम्भिक पूछताछ में इस प्रकरण में उदा डांगी नामक भूमाफिया का नाम सामने आ रहा है। प्रथम दृष्टया सामने आया कि आरोपी मांगीदास ने एक बैंक में रामलाल भील का खाता खुलवाया था, जिसमें पैसे भी जमा करवाए थे। पैसे कहां से आए थे। इस बारे में पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश कर 25 जनवरी तक रिमाण्ड पर प्राप्त किया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*