Tuesday , 17 October 2017
Breaking News
Home » Sports » ‘शतकवीर’ धवन ने दिलाया सम्मान

‘शतकवीर’ धवन ने दिलाया सम्मान

पल्लेकेल। ओपनर शिखर धवन (119) और लोकेश राहुल (85) की महत्वपूर्ण पारियों की बदौलत भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शनिवार को दिन का खेल समाप्त होने तक पहली पारी में 6  विकेट पर 329 रन का संतोषजनक स्कोर बना दिया।’शतकवीरÓ धवन ने दिलाया सम्मानपल्लेकेल। ओपनर शिखर धवन (119) और लोकेश राहुल (85) की महत्वपूर्ण पारियों की बदौलत भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शनिवार को दिन का खेल समाप्त होने तक पहली पारी में 6  विकेट पर 329 रन का संतोषजनक स्कोर बना दिया।धवन और राहुल ने टीम को सुबह के सत्र में अच्छी शुरूआत दिलाई और पहले विकेट के लिये 188 रन की मजबूत साझेदारी की। लेकिन बाकी सत्र में श्रीलंकाई स्पिनरों की फिरकी के सामने मध्यक्रम के बल्लेबाज संघर्ष करने के लिये मजबूर हो गये और दिन का खेल समाप्त होने तक भारत ने 90 ओवरों में 6 विकेट गंवाकर 329 रन बना लिये हैं।तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से पहले ही कब्जा कर चुकी मेहमान टीम पल्लेकेल में अपने पिछले मैचों के प्रदर्शन से कुछ पीछे दिखी जहां उसने गाले और कोलंबो में अपनी पहली पारियों में 600 का स्कोर खड़ा किया था। हालांकि बल्लेबाजों ने दिन की समाप्ति तक संतोषजनक स्कोर बना लिया। धवन ने मैच में अपना छठा शतक बनाया जबकि राहुल ने रिकार्ड निरंतर सातवां अर्धशतक ठोक दिया। कप्तान विराट कोहली ने 42 रन और रविचंद्रन अश्विन ने 31 रन की अहम पारियां खेलीं। मैच समाप्ति तक  विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा 13 रन और हार्दिक पांड्या 1 रन बनाकर नाबाद क्रीज पर हैं।भारत का लंच तक एक भी विकेट नहीं निकाल सके श्रीलंकाई गेंदबाजों ने फिर 141 रन के भीतर मेहमान टीम के 6 विकेट निकालकर कुछ राहत की सांस ली। लेफ्ट आर्म स्पिनर मङ्क्षलडा पुष्पकुमारा मेजबान टीम के सबसे सफल गेंदबाज रहे और 18 ओवर में 40 रन देकर सर्वाधिक 3 विकेट निकाले। आखिरी टेस्ट में क्लीन स्वीप के इरादे से उतरी भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने सुबह टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी का ही निर्णय किया और पिछले मैचों की तरह इस बार भी अपनी पहली पारी की शुरूआत मजबूत बल्लेबाजी प्रदर्शन के साथ की तथा लंच होने तक बिना किसी विकेट नुकसान के 134 रन बना लिये।  लेकिन चायकाल होने तक उसने अपने तीनों ओपनिंग क्रम के बल्लेबाजों को गंवा दिया। भारत ने लंच के बाद अपने 3 विकेट 47 रन के अंतर पर गंवाये। सुबह श्रीलंकाई फील्डरों की कमजोरी का भी भारतीय ओपनरों को कुछ फायदा मिला। धवन को एक रन पर ही जीवनदान मिला जबकि राहुल जब 28 के स्कोर पर थे तब दिमुथ कुरूणारत्ने की गेंद पर उनका एक खराब शॉट लाहिरू कुमारा ने छोड़ दिया। इसके बाद 31 वर्षीय धवन ने इस जीवनदान का भरपूर फायदा उठाते हुये 123 गेंदों में 17 चौकों की मदद से 119 रन की पारी खेल दी जो उनका छठा टेस्ट शतक और मौजूदा दौरे पर दूसरा शतक है।वहीं दूसरे छोर पर राहुल ने उनका अच्छा साथ दिया और 135 गेंदों की पारी में आठ चौके लगाकर 85 रन बनाये। राहुल को मलिंडा पुष्पकुमारा ने करूणारत्ने के हाथों कैच कराकर भारत को 188 के स्कोर पर पहला झटका दिया। इसके बाद धवन भी बहुत देर तक नहीं टिके और पुष्पकुमारा ने ही कप्तान दिनेश चांडीमल के हाथों उन्हें आउट कर दिया।  धवन और राहुल ने पहले विकेट के लिये 188 रन की बेहतरीन शतकीय साझेदारी की। राहुल ने इस मैच में 85 रन की अर्धशतकीय पारी खेली जो उनका टेस्ट में लगातार सातवां अर्धशतक भी है। इस बार लेकिन श्रीमान भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा सस्ते में आउट हो गये और 33 गेंदों की पारी में 8 रन ही बना सके। इसके बाद क्रीज पर आये कप्तान विराट ने संभलकर खेलने की कोशिश की और 84 गेंदों में तीन चौके लगाकर 42 रन बनाये। हालांकि संदाकन ने उन्हें करूणारत्ने के हाथों लपककर बड़ा विकेट निकाला।दूसरे छोर पर रहाणे भी इस बार देर तक संघर्ष नहीं कर सके और उन्होंने 48 गेंदों की पारी में एक चौका लगाकर 17 रन ही बनाये थे कि पुष्पकुमारा ने उन्हें बोल्ड कर दिया। हालांकि अश्विन ने निचले क्रम पर कुछ रन बटोरे और 75 गेंदों में एक चौका लगाकर 31 रन बनाये। अश्विन को विश्वा फर्नांडो ने डिकवेला के हाथों कैच कराया।   इस मैच में अपेक्षा के मुताबिक निलंबित रवींद्र जडेजा की जगह चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को अंतिम एकादश में खेलने का मौका दिया गया जो टीम में एकमात्र बदलाव था। तीन मैचों की सीरीज को पहले ही 0-2 से गंवा चुकी श्रीलंकाई टीम ने मैच में लक्ष्ण संदाकन और तेज गेंदबाज कुमारा तथा फर्नांडो को इस मैच में उतारा जबकि उसके कई खिलाड़ी चोटिल होकर बाहर हैं। भारत (पहली पारी) रन गेंद 4 6धवन को चांडीमल बो पुष्पकुमारा 119 123 17 0राहुल को करूणारत्ने बो पुष्पकुमारा 85 135 8 0पुजारा को मैथ्यूज बो संदाकन 8 33 0 0 कोहली को करूणारत्ने बो संदाकन 42 84 3 0रहाणे बो पुष्पकुमारा 17 48 1 0अश्विन को डिकवेला बो फर्नांडो 31 75 1 0साहा नाबाद 13 38 0 0पांड्या नाबाद 1 6 0 0अतिरिक्त : 13, कुल : 90 ओवर में 329 रनविकेट पतन: 1-188, 2-219, 3-229, 4-264, 5-296, 6-322गेंदबाजी ओवर मेडन रन विकेटविश्वा फर्नांडो 19 2 68 1लाहिरू कुमारा 15 1 67 0दिमुथ करूणारत्ने 5 0 23 0दिलरूवान परेरा 8 1 36 0लक्षण संदाकन 25 2 84 2मलिंडा पुष्पकुमारा 18 2 40 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*