Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » Sports » ”मैं अपनी कोर टीम को लेकर स्पष्ट था”

”मैं अपनी कोर टीम को लेकर स्पष्ट था”

मुंबई। भारतीय टीम के कोचिंग बॉस रवि शास्त्री ने मंगलवार को कहा कि वह अपनी कोर टीम को लेकर पूरी तरह स्पष्ट थे और उन्हें इसे लेकर कोई उलझन नहीं थी।
शास्त्री ने बीसीसीआई की चार सदस्यीय समिति से मुलाकात और भरत अरूण को टीम इंडिया का नया गेंदबाजी कोच बनाये जाने के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैं अपनी कोर टीम को लेकर पूरी तरह स्पष्ट था और मुझे मालूूम था कि मेरा सपोर्ट स्टाफ क्या होना चाहिये।
यह पूछने पर कि इस तमाम विवाद को टाला जा सकता था शास्त्री ने कहा, मैं इंग्लैंड में था और टेनिस देख रहा था। मुझे मालूम था कि मेरी कोर टीम क्या होगी और जो आपने अभी सुना वही मेरी कोर टीम है।
शास्त्री ने अंडर-19 और भारतीय टीम के अपने दिनों के साथी खिलाड़ी अरूण को गेंदबाजी कोच बनाने की सिफारिश की थी जिन्हें बीसीसीआई ने इस पद पर नियुक्त कर दिया है। अरूण के साथ साथ शास्त्री के लिये वही सपोर्टिंग स्टाफ रखा गया है जो उनके टीम इंडिया के निदेशक रहते हुये था।
पूर्व ऑलराउंडर शास्त्री ने इस पूरे मामले पर स्पष्टीकरण देते हुये कहा, पहले तो मैं यह बताना चाहता हूं कि मैं स्पष्ट था कि किसी तरह का विरोधाभास नहीं है। कोच बनने के बाद मुझे अपनी जिम्मेदारियों और अपने साथी स्टाफ के बारे में सोचना था। मुझे यह देखना था कि मुझे कौन सी टीम चाहिये।
यह पूछने पर कि कोच चुनने वाली सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की तीन सदस्यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने अपने अधिकारों का उल्लंघन किया तो शास्त्री और बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने सीएसी का बचाव किया। चौधरी ने कहा, मुझे नहीं लगता कि यह प्रश्न इस समय प्रासंगिक है। सीएसी ने शानदार काम किया और पिछले डेढ़ वर्षों में मैं उनके इस काम का गवाह हूं।
शास्त्री ने सीएसी का उन पर भरोसा जताने के लिये धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, मैं सीएसी को धन्यवाद देना चाहता हूं क्योंकि भारतीय क्रिकेट टीम का प्रमुख कोच होना गर्व और सम्मान की बात है। मैं सीएसी का शुक्रगुजार हूं जो उन्होंने मुझे इस पद के लायक समझा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*