Sunday , 23 July 2017
Breaking News
Home » Sports » मिताली-गायकवाड के कमाल से भारत सेमीफाइनल में

मिताली-गायकवाड के कमाल से भारत सेमीफाइनल में

Views:
1

डर्बी। रन मशीन और कप्तान मिताली राज (109) के शानदार शतक के बाद लेफ्ट आर्म स्पिनर राजेश्वरी गायकवाड (15 रन पर 5 विकेट) के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के दम पर भारत ने करो या मरो के अहम मुकाबले में शनिवार को न्यूजीलैंड को 186 रन के बड़े अंतर से पीटकर आईसीसी महिला विश्वकप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।
भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मिताली (109) के शानदार शतक और वेदा कृष्णामूर्ति (70) तथा हरमनप्रीत कौर (60) के बेहतरीन अर्धशतकों की बदौलत निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट पर 265 रन का मजबूत स्कोर बनाया और फिर न्यूजीलैंड की टीम को 25.3 ओवर में 79 रन पर ढेर 186 रन से मैच अपने नाम कर लिया।
इस विशाल जीत के साथ ही भारतीय टीम आईसीसी महिला विश्वकप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चौथी टीम बन गई है। भारत से पहले इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और आस्ट्रेलिया की टीमें पहले सेमीफाइनल का टिकट कटा चुकी है।
भारत से मिले 266 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरूआत बेहद खराब रही और टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। कीवी टीम की तरफ से उसके 3 बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा छू सके।
भारतीय गेंदबाजों ने इस करो या मरो के अहम मुकाबले में कमाल का प्रदर्शन करते हुए न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को चारों खाने चित कर दिये। गायकवाड ने 7.3 ओवर में एक मैडन रखते हुए 15 रन देकर पांच खिलाडिय़ों को आउट किया। गायकवाड के अलावा दीप्ति शर्मा ने 26 रन पर दो विकेट और झूलन गोस्वामी, शिखा पांडे तथा पूनम यादव ने एक-एक विकेट हासिल किया।
टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने भारत के दोनों ओपनरों पूनम राउत (4) और स्मृति मंधाना (13) को 21 रन के अंदर पवेलियन भेज दिया। लेकिन इसके बाद मिताली ने 123 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 109 रन की शानदार शतकीय पारी खेलकर टीम को एक सम्मानजक स्कोर तक पहुंचा दिया।
वनडे क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने का रिकार्ड अपने नाम करने वाली स्टार बल्लेबाज मिताली ने अपने करियर का छठा शतक जड़ा। कप्तान मिताली 49.3 ओवर में आउट हुई। टूर्नामेंट में मिताली अब तक तीन अर्धतशतक भी जड़ चुकी है।
मिताली ने मध्यम क्रम की बल्लेबाज कौर के साथ तीसरे विकेट के लिए 27.3 ओवर में 132 रन और कृष्णामूर्ति के साथ पांचवें विकेट के लिए मात्र 13 ओवर में 108 रन की बेशकीमती शतकीय साझेदारी की।
34 वर्षीय मिताली के अलावा कृष्णामूर्ति ने 45 गेंदों पर सात चौकों और दो छक्कों की मदद से 70 रन की विस्फोटक पारी खेली। 24 वर्षीय कृष्णामूर्ति का यह छठा अर्धशतक है। मिताली और कृष्णामूर्ति के अलावा कौर ने भी 90 गेंदों में सात चौकों की मदद से 60 रन की उपयोगी पारी खेली। उन्होंने अपने करियर का नौंवा अर्धशतक ठोका। मंधाना ने 24 गेंदों में 13 रन की पारी में दो चौके जड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*