Tuesday , 21 November 2017
Breaking News
Home » Sports » धोनी की बल्ले-बल्ले, सुरेश रैना पर पड़ी वक्त की मार

धोनी की बल्ले-बल्ले, सुरेश रैना पर पड़ी वक्त की मार

dhoni_raina_IPLनई दिल्ली। आइपीएल गवर्निंग काउंसिल २१ नवंबर को अगले आईपीएल के लिए खिलाडिय़ों को रिटेन करने की अपनी पॉलिसी की घोषणा करेगी। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि हर टीम को तीन खिलाडिय़ों को रिटेन करने की अनुमति दी जा सकती है जिसमें दो भारतीय और एक विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं।
पिछले दो वर्षों से बैन झेल रही दो टीमें चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स अगले सीजन से वापसी कर रही है साथ ही गुजरात लायंस और राइजिंग पुणे सुपर जाइंट अब अगले सीजन में खेलती नजर नहीं आएगी। ऐसे में सीएसके और राजस्थान की टीम गुजरात और पुणे के खिलाडिय़ों को अपनी टीम में चुन सकती है। इसके अलावा वर्ष २०१७ में आइपीएल में खेलने वाली टीम अपने तीन खिलाडिय़ों को रिटेन कर सकती है।
चेन्नई सुपर किंग्स कि अगले आइपीएल में वापसी हो रही है ऐसे में तमिल डेली के खबरों के मुताबिक सीएसके टीम मैनेजमेंट ने उन तीन खिलाडिय़ों को चुन लिया है। खबर के मुताबिक चेन्नई फ्रेंचाइजी ने महेंद्र सिंह धोनी, आर. अश्विन और फाफ डू प्लेसिस को रिटेन किया है। इसके बाद ये तय है कि धोनी सीएसके के कप्तान होंगे जिनके लिए चेन्नई दूसरे घर की तरह है। विदेशी खिलाड़ी के तौर पर इस टीम ने डू प्लेसिस को रिटेन किया है। सीएसके ने टी२० के बेस्ट गेंदबाज ड्वेन ब्रावो की जगह डू प्लेसिस को तरजीह दी है।
धौनी की कप्तानी में सीएसके की तरफ से रैना खेल चुके हैं और वो टीम के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। रैना ने पहले आठ संस्करण में सीएसके के लिए खूब रन बनाए और चेन्नई में उनके प्रशंसकों की कमी नहीं है लेकिन टीम ने इस बार लोकल खिलाड़ी आर. अश्विन को रैना की जगह टीम में रिटेन किया। इसके पीछे वजह ये भी हो सकती है क्योंकि रैना काफी समय से ना सिर्फ भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं बल्कि वे घरेलू स्तर पर भी अच्छी बल्लेबाजी करने में नाकाम हो रहे हैं।
आइपीएल के ग्यारहवें सीजन में सभी टीमें पूरी तरह से बदली नजर आएंगी। अगले सीजन के लिए एक बार फिर से खिलाडिय़ों की नीलामी की जाएगी और इसमें ५०० से ज्यादा खिलाडिय़ों की बोली लगेगी। हालांकि आइपीएल गवर्निंग काउंसिल २१ नवंबर को रिटेनशन पॉलिसी के बारे में घोषणा करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*