Saturday , 23 September 2017
Breaking News
Home » Sports » झाझरिया-सरदार बनेंगे खेल रत्न

झाझरिया-सरदार बनेंगे खेल रत्न

नई दिल्ली। रियो पैरालंपिक के स्वर्ण पदक विजेता भाला फेंक एथलीट देवेंद्र झांझरिया और पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान सरदार ङ्क्षसह को इस वर्ष देश के सर्वाेच्च खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न तथा क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा और हरमनप्रीत कौर को प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार के लिये नामित किया गया है।
अर्जुन पुरस्कार समिति की गुरूवार को यहां बैठक हुई जिसमें झाझरिया और सरदार को खेल रत्न के लिये नामित किया गया जबकि 17 खिलाडिय़ों की अर्जुन पुरस्कार के लिये सिफारिश की गयी।
झाझरिया ने गत वर्ष रियो पैरालंपिक में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीता था। वह इससे पहले 2004 के एथेंस पैरालंपिक में भी भाला फेंक में स्वर्ण जीत चुके हैं। राजस्थान के झाझरिया ने इसके अलावा 2013 की आईपीसी विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक और 2015 की ही आईपीसी विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था।
दुनिया के बेहतरीन मिडफील्डरों में शुमार सरदार ङ्क्षसह की अगुवाई में भारत ने 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों में 16 वर्ष के अंतराल के बाद जाकर हॉकी में स्वर्ण पदक हासिल किया था और रियो ओलंपिक के लिये सीधे क्वालीफाई किया था।
अर्जुन पुरस्कार के लिये क्रिकेटर चेतेश्वर पुजारा और महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत ङ्क्षसह, रियो पैरालंपिक में पुरूष ऊंची कूद में कांस्य पदक हासिल करने वाले वरूण ङ्क्षसह भाटी, बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रशांती ङ्क्षसह, गोल्फर एसएसपी चौरसिया और महिला फुटबालर ओनम बेमबेम देवी शामिल हैं।
इनके अलावा टेनिस खिलाड़ी साकेत मिनैनी, रियो पैरालंपिक में स्वर्ण जीतने वाले ऊंची कूद एथलीट मरियपन्न थंगावेलू, महिला तीरंदाज वीजे सुरेखा, एथलीट खुशबीर कौर और आरोकिया राजीव, हॉकी खिलाड़ी एस वी सुनील, पहलवान सत्यव्रत कादियान, टेबल टेनिस खिलाड़ी एंथोनी अमलराज, निशानेबाज पीएन प्रकाश, कबड्डी खिलाड़ी जसवीर ङ्क्षसह और मुक्केबाज देवेंद्र ङ्क्षसह के नाम की अर्जुन अवार्ड के लिये सिफारिश की गयी हैं।
रियो पैरालंपिक में रजत पदक हासिल करने वाली महिला शॉट पुटर दीपा मलिक को 2012 में ही अर्जुन पुरस्कार मिल चुका था। इस तरह रियो पैरालंपिक के चार पदक विजेताओं में से तीन को इस बार पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा।
न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) सी के ठक्कर की अध्यक्षता वाली खेल रत्न और अर्जुन पुरस्कार समिति की खेल रत्न के लिये झाझरिया पहली पसंद थे। समिति ने 31 वर्षीय सरदार को भी खेल रत्न के लिये नामित किया और दोनों को ही यह पुरस्कार संयुक्त रूप से देने की सिफारिश की।
वैसे सरकार का नियम है कि केवल ओलंपिक वर्ष में ही एक से अधिक खिलाडिय़ों को खेल रत्न से सम्मानित किया जाए और अन्य वर्षों में एक एक खिलाड़ी को खेल रत्न दिया जाए। लेकिन समिति ने इस परंपरा से हटते हुये इस साल दो खिलाडिय़ों को खेल रत्न देने की सिफारिश कर डाली है।
36 वर्षीय झाझरिया पहले पैरा एथलीट खिलाड़ी बने हैं जिनके नाम की खेल रत्न के लिये सिफारिश की गयी है। झाझरिया ने 2004 और 2016 के पैरालंपिक खेलों में नये विश्व रिकार्ड बनाते हुये स्वर्ण पदक जीते थे।
राष्ट्रपति 29 अगस्त को खेल दिवस के दिन खेल रत्न, अर्जुन, द्रोणाचार्य और ध्यानचंद पुरस्कार प्रदान करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*