Wednesday , 23 August 2017
Breaking News
Home » Sports » जडेजा का पंजा, भारत की लगातार आठवीं सीरीज जीत

जडेजा का पंजा, भारत की लगातार आठवीं सीरीज जीत

Views:
7

कोलंबो। लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा (152 रन पर पांच विकेट) और हार्दिक पांड्या तथा रविचंद्रन अश्विन के दो-दो विकेटों की बदौलत भारत ने श्रीलंका को दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे ही दिन रविवार को चायकाल से पहले पारी और 53 रन से हराकर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली।

भारत ने इस तरह पहली बार श्रीलंकाई जमीन पर पारी के अंतर से जीत हासिल की। इससे पहले गाले में पहले टेस्ट में भारत ने 304 रन से जीत हासिल की थी जो रनों के लिहाज से भारत की श्रीलंकाई जमीन पर सबसे बड़ी जीत थी। भारत ने इस तरह श्रीलंका में लगातार दूसरी सीरीज जीत अपने नाम कर ली। भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में श्रीलंका को 2015 में 2-1 से हराया था। भारत की यह लगातार आठवीं सीरीज जीत है।

विश्व की नंबर एक टीम भारत के पहली पारी में नौ विकेट पर 622 रन पारी घोषित के जवाब में श्रीलंका की टीम अपनी पहली पारी में 183 रन पर ढेर हो गई थी और फिर उसे फालोऑन खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा। श्रीलंका ने कल के दो विकेट पर 209 रन से आगे खेलना शुरु किया और उसकी दूसरी पारी कुशल मेंडिस (110) और ओपनर दिमुथ करूणारत्ने (141) के शतकों के बावजूद 116.5 ओवर में 386 रन पर सिमट गई। भारत ने इस तरह यह टेस्ट पारी और 53 रन से जीत लिया।

दूसरे टेस्ट में भारत की पहली पारी में नाबाद 70 रन बनाने वाले दूसरी पारी में पांच विकेट सहित मैच में कुल सात विकेट हासिल करने वाले विश्व के नंबर एक गेंदबाज रवीन्द्र जडेजा को मैन आफ द मैच का पुरस्कार मिला। जडेजा ने 39 ओवर में 152 रन पर पांच विकेट लिये। पांड्या ने 31 रन पर दो विकेट, अश्विन ने 132 रन पर दो विकेट और तेज गेंदबाज उमेश यादव ने 39 रन पर एक विकेट हासिल किया।

श्रीलंका ने सुबह अपनी पारी दो विकेट पर 209 रन से आगे बढ़ाई। लेकिन जल्द ही उसने दो विकेट गंवा दिए। नाइटवाचमैन मङ्क्षलडा पुष्पकुमारा 16 रन बनाने के बाद अश्विन की गेंद पर बोल्ड हो गये। कप्तान दिनेश चांडीमल ने दो रन बनाए थे कि जडेजा ने उन्हें अङ्क्षजक्या रहाणे के हाथों कैच करा दिया।

दूसरे छोर पर ओपनर दिमुथ करूणारत्ने ने 92 रन से आगे खेलते हुए अपना छठा शतक पूरा किया। करूणारत्ने श्रीलंका का संघर्ष जारी रखे हुए थे और उन्होंने लंच तक टीम के स्कोर को 302 रन तक पहुंचा दिया। लंच के समय करूणारत्ने 136 और एंजेलो मैथ्यूज 28 रन पर नाबाद थे।  लेकिन लंच के बाद श्रीलंका ने 84 रन जोड़कर अपने शेष छह विकेट गंवा दिये। भारत के लिए सबसे बड़ा खतरा बने करूणारत्ने लंच के बाद तुरंत निपट गए। श्रीलंका की टीम अपने स्कोर में आठ रन का ही इजाफा कर पाई थी कि करूणारत्ने को जडेजा की गेंद पर रहाणे ने लपक लिया। करूणारत्ने ने 307 गेंदों पर 141 रन की अपनी शानदार पारी में 16 चौके लगाए।

इसके बाद मैथ्यूज (36) भी जडेजा की गेंद पर विकेटकीपर रिद्धिमान साहा को कैच दे बैठे। श्रीलंका ने पांच रन के अंतराल में दो विकेट गंवा दिये और उसका स्कोर छह विकेट पर 315 रन हो गया। इसके छह रन बाद दिलरूवान परेरा (4) को जडेजा की गेंद पर विकेटकीपर साहा ने स्टंप कर दिया।

धनंजय डि सिल्वा ने 17 रन बनाए थे कि जडेजा ने उन्हें रहाणे के हाथों कैच करा दिया। श्रीलंका का आठवां विकेट 343 के स्कोर पर गिरा। विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला ने 56 गेंदों में चार चौकों की मदद से 31 रन बनाए और उनका शिकार पांड्या ने किया। अश्विन ने नुवान कुलदीप को आउट कर श्रीलंका की पारी 386 रन पर समेट दी। रंगना हेरात 17 रन पर नाबाद रहे। विराट कोहली की अपनी कप्तानी में 28 टेस्टों में यह 18वीं जीत है। भारत ने इससे पहले 2015 में भी श्रीलंका को विराट की कप्तानी में ही 2-1 से हराया था। इस जीत के साथ ही भारत ने विराट की कप्तानी में लगातार आठवीं सीरीज जीती है। दोनों देशों के बीच सीरीज का तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच शनिवार से पल्लीकेल में खेला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*