Sunday , 24 September 2017
Breaking News
Home » Rajasthan » चौपाटी से नक्कारखाना मार्ग होगा 40 फीट चौड़ा

चौपाटी से नक्कारखाना मार्ग होगा 40 फीट चौड़ा

नाथद्वारा। राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर के कड़े रूख के चलते राज्य सरकार और जिला प्रशासन की जान सांसत में आ गई। श्रीनाथजी मंदिर के तिलकायत की ओर से उच्च न्यायालय में दिए हलफनामे में मंदिर मंडल की जमीन बिना किसी मुआवजे के श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए रास्ता चौडा करने के लिए अपने आधिपत्य की संपति बिना किसी पारितोष जनहित में देने के बाद उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को कड़े निर्देश दिए है कि आगामी 13 सितबंर तक अपना जवाब प्रस्तुत करे।
इधर नाथद्वारा में इतने बड़े आमूल चूल परिवर्तन करने, बड़े स्तर पर मुआवजा निर्धारित करने तथा जन आक्रोश के संभावित अनिष्ठ की आशंका के चलते प्रशासन को तकरीबन सांप सूंघ गया है। स्थिति से निपटने के लिए एवं उच्च न्यायालय से कुछ और वक्त हासिल करने की मंशा से गुरूवार को जिला कलेक्टर पीसी बेरवाल अपने प्रशासनिक अमले के साथ आनन फानन में नाथद्वारा पहुंचे व मौके की वस्तु स्थिती का जायजा लिया।
इधर सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार तिलकायत की ओर से दिए गए हलफनामे में टैक्सी स्टेंड से चौपाटी तक तथा गोविन्द चौक से चौपाटी तक के मार्ग को 60 फीट चौड़ा करने तथा चौपाटी से नक्कार खाना तक के मार्ग को 40 फीट चौड़ा करने की सहमति दी तथा अपनी संपत्ति समर्पित की। इधर नाथद्वारा के अंदर होने वाले इस बड़े परिवर्तन को लेकर पूरा शहर उद्वेलिग हो रहा है तथा इस क्षैत्र में आने वाली निजी संपत्ति के मालिक येन केन प्रकारेण हाईप्रोफाईल एडवोकेटस के चक्कर लाग कर कोई कानूनी मार्ग तलाशने में लग गए है।
इन क्षेत्रों का किया मौका मुआयना: कलेक्टर पीसी बैरवाल ने गुरूवार को मुख्य निष्पादन अधिकारी एसएन आचार्य, उपखंड अधिकारी निशा अग्रवाल, तहसीलदार राजेन्द्र भारद्वाज, पालिका अध्यक्ष लालजी मीणा, उपाध्यक्ष परेश सोनी, सार्वजनिक निर्माण विभाग एईएन बीपी माथुर ने सुन्दर विलास के सामने होटल शगुन से गोविन्द चौक, देहली बाजार, चौपाटी, मंदिर मार्ग, माणक चौक,गांधी रोड व टैक्सी स्टेंड तक के मार्ग का मौका मुआयना किया। इस दौरान पालिका उपाध्यक्ष सोनी ने जिला कलेक्टर को वास्तविकता से अवगत करवाया। कलेक्टर ने मौका मुआयना के बाद उपखंड अधिकारी निशा अग्रवाल को वास्तविक रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*