Tuesday , 20 February 2018
Breaking News
Home » Rajasthan » कांग्रेस की सरकारें पत्थर रखकर गुमराह करती रही : मोदी

कांग्रेस की सरकारें पत्थर रखकर गुमराह करती रही : मोदी

बाड़मेर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस सरकारों पर योजनाओं के पत्थर रखकर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार वायदें पूरे करती है तथा यह रिफाइनरी भी 2022 तक तैयार होकर यहां की तकदीर और तस्वीर बदल देगी।
मोदी ने मंगलवार को पचपदरा में जनसभा में संतों एवं स्वतंत्रता सेनानियों को याद करते हुए कहा कि कांग्रेस का काम पत्थर जड़कर जनता को गुमराह करने वाला तथा चुनावों में गरीबी हटाओ के नारे देने का रहा लेकिन हम गरीब का सशक्तिकरण करना चाहते हैं। यही वजह रही कि हमने ‘वन रैंक, वन पैंशन’ का वायदा पूरा किया तथा प्रधानमंत्री जन धन योजना लागू की जिसमें आज 72 हजार करोड़ रूपए जमा हो चुके हैं।
रिफाइनरी की शुुरूआत करते हुए उन्होंने कहा कि आज से कार्य आरंभ हो जाएगा तथा यहां से नई ऊर्जा मिलेगी जो देश के हर कौने कौने तक पहुंचेगी। यह भी पता चलेगा कि योजनाएं पत्थर रखने से नहीं बल्कि उन्हें पूरा करने तथा उसका लाभ गरीबों तक पहुंचाने वाली सरकार भी होती है। मोदी ने कांग्रेस पर योजनाओं के नाम पर गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब मैने रेल बजट की घोषणाओं को देखा तो पता चला कि पन्द्रह सौ से ज्यादा ऐसी घोषणाएं की गई जिनका नामनिशान नहीं था वे सब कागज पर थी तथा संसद में ताली बजाकर वाहवाही लूटने के लिए की गई थी। उन्होंने कहा कि हमने यह फैसला किया कि जितना होना तय है उतना ही बताया जाए क्योंकि हम मानते हैं कि देश को सही बोलने और करने की ताकत जनता से मिलेगी।
उन्होंने आरोप लगाया कि वन रैंक वन पैंशन के मामले में कांग्रेस ने दबाव में बजट में पांच सौ करोड़ रूपए का प्रावधान रखा लेकिन वह भी केवल कागजों में ही था। यह कांग्रेस की आदत है कि देश के साथ धोखा करने के बावजूद चुनाव में उसे भुनाना भी चाहती है। कांग्रेस के गरीबी हटाओं का नारा चार दशकों से देख रहे हैं लेकिन गरीब के लिए कोई योजना नहीं बनायी गई। यह कहा जाता रहा कि गड्डे खोद लो और दाना पानी लेते रहो।
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि श्रीमती राजे ने केन्द्र सरकार से लड़ाई लड़कर प्रदेश को आर्थिक फायदा पहुंचाया लेकिन इससे मुझे नुकसान हुआ क्योंकि रिफाइनरी का पुराना समझौता लागू किया जाता तो केन्द्र के 40 हजार करोड़ रूपए बच जाते। एक मुख्यमंत्री की अपनी ही सरकार से विकास के लिए लड़ाई भाजपा में ही संभव हो सकती है। उन्होंने कहा कि श्रीमती राजे में राज परिवार के संस्कार होने के साथ मारवाड़ी संस्कार भी है जिसकी वजह से वह भारत सरकार से जितना ले सकती थी उतना लिया।
प्रधानमंत्री ने प्रथम विश्व युद्ध में हाइफा को मुक्त कराने के लिए संघर्ष करने वाले मरूभूमि के मेजर दलपत सिंह शेखावत को याद करते हुए कहा कि इजरायल के प्रधानमंत्री ने भी ऐसे बलिदानी शहीद को दिल्ली के तीन मूर्ति शहीद स्थल पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। उन्होंने पूर्व उप राष्ट्रपति भैरों सिंह शेखावत को याद करते हुए कहा कि रिफाइनरी का सबसे पहले सपना उन्हीं का था।
प्रधानमंत्री ने पूर्व विदेश मंत्री जसवंत सिंह के स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की। रिफाइनरी का उद्घाटन भी मोदी से करवाएंगे
बाड़मेर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि प्रदेश में रिफाइनरी का सपना पहली बार 2005 में भाजपा सरकार ने देखा था तथा इसका उद्घाटन भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से 2022 में करवाएंगे। श्रीमती राजे ने पचपदरा में कहा कि बाड़मेर में मंगला नाम से तेल कुआं भाजपा के कार्यकाल में ही शुरू हुआ था। आज रिफाइनरी की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की है तो 2022 में इसका उदघाटन भी मोदी से ही करवाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछली कांग्रेस सरकार ने रिफाइनरी के लिए चार साल में तो कुछ नहीं किया लेकिन जाते जाते इसका शिलान्यास सोनिया गांधी से करवाया जबकि उस समय जमीन ही तय नहीं थी। पचास हजार करोड़ के पत्थर केवल चुनाव में वोट पाने के लिए लगा दिए। यह राजस्थान की जनता के साथ खिलवाड़ किया गया। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि इस रिफाइनरी को निर्धारित समय 2022 से पहले ही पूरा कर लिया जाएगा। आने वाले दिनों में इस क्षेत्र में एक लाख करोड़ रूपये का निवेश करने की योजना बनाई है जिससे लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा। इस मौके पर राज्य के खान मंत्री सुरेन्द्रपाल टीटी ने कहा रिफाइनरी से पश्चिमी राजस्थान ही नहीं पूरे प्रदेश में खुशहाली आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*