Thursday , 23 November 2017
Breaking News
Home » Political » 24 घंटे में 6 कांग्रेसी विधायकों ने छोड़ा साथ

24 घंटे में 6 कांग्रेसी विधायकों ने छोड़ा साथ

गांधीनगर। गुजरात में राज्यसभा की 3 सीटों के लिए चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस के 3 और विधायकों ने शुक्रवार को पार्टी और विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया जिससे पिछले 24 घंटे में पार्टी छोडऩे वाले विधायकों की संख्या 6 हो गयी है। शुक्रवार को इस्तीफा देने वाले विधायकों में कांग्रेस के दिग्गज नेता तथा अमूूल डेयरी के नाम से विख्यात गुजरात के खेडा जिला सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ के चेयरमैन रामङ्क्षसह परमार शामिल हैं। उनके अलावा वासंदा के विधायक शनाभाई चौधरी ने कल देर रात और बालासिनोर के कांग्रेस विधायक मानङ्क्षसह चौहाण ने शुक्रवार को विधानसभा अध्यक्ष रमनभाई वोरा को अपना त्यागपत्र सौंप दिया। इनके भी भाजपा में शामिल होने की संभावना है।
पार्टी के तीन विधायकों ने कल इस्तीफा दे दिया था और भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गये थे। इनमें से एक बलवंत ङ्क्षसह राजपूत को भाजपा ने राज्यसभा चुनाव के लिये अपना उम्मीदवार घोषित किया है। ङ्क्षसह ने शुक्रवार को भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तथा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ विधिवत नामांकन भी कर दिया।
अब इस चुनाव के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल समेत कुल चार उम्मीदवार मैदान में हैं। कांग्रेस छोडऩे वाले विधायक कद्दावर नेता शंकरङ्क्षसह वाघेला के करीबी बताये जाते हैं। वाघेला ने 21 जुलाई को कांग्रेस से नाता तोड़ लिया था। ऐसी अटकलें हैं कि कांग्रेस के कुछ और विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं। इससे अहमद के लगातार पांचवी बार राज्यसभा चुनाव जीतने में मुश्किलें बढ़ सकती हैं। अहमद अपना नामांकन पत्र दाखिल कर चुके हैं। कुल 182 सदस्यों वाली विधानसभा में (शेष पृष्ठ ८ पर)
भाजपा के पास एक बागी समेत 122 विधायक हैं। 6 विधायकों के इस्तीफे के बाद कांग्रेस के 51, राकांपा के 2 और जदयू का 1 विधायक है।
‘एक परिवार की अधीनता के चलते टूट रही कांग्रेसÓ
गांधीनगर। भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस के इस आरोप को पूरी तरह बेबुनियाद करार दिया है कि यह उसके विधायकों के खरीद फरोख्त का प्रयास कर रही है। पार्टी ने गुजरात में कांग्रेस के 6 विधायकों के इस्तीफे के लिए उसके ही आंतरिक कलह और एक परिवार (गांधी परिवार) के अधीन चलने वाली राजनीति के प्रति असंतोष को जिम्मेदार बताया है।
भाजपा के वरिष्ठ नेता तथा गुजरात के उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल ने कांग्रेस के 4 विधायकों की ओर से भाजपा खेमे पर खरीदफरोख्त के प्रयास का आरोप लगाये जाने के बाद यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है। कांग्रेस में एक ही परिवार के शासन तथा इस तरह की राजनीति से इसमें बिखराव हो रहा है।
उन्होंने कहा कि एक परिवार वाली कांग्रेस ने क्यों पिछले चार बार से यानी 24 साल से केवल अहमद पटेल को ही राज्यसभा के लिए नामित किया है। इसे क्या किसी अन्य जाति या क्षेत्र का उम्मीदवार नहीं मिला, इस तरह की बातों से पार्टी में असंतोष है।
पार्टी ने शंकरङ्क्षसह वाघेला जैसे दिग्गज नेता को भी अपमानित किया है। पटेल ने दावा किया कि पिछले 24 घंटे में इस्तीफा देने वाले 6 विधायकों के अलावा अन्य विधायक और कांग्रेस नेता भी पार्टी को छोड़ सकते हैं। पार्टी अपने आंतरिक कलह के चलते एक तरह के सफाये की ओर बढ़ रही है। इसके शीर्ष नेतृत्व ने शंकरङ्क्षसह वाघेला जैसे वरिष्ठ नेता की सलाह की भी अनदेखी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*