Saturday , 23 June 2018
Breaking News
Home » Political » मुख्यमंत्री पद पर कांग्रेस से कोई समझौता नहीं

मुख्यमंत्री पद पर कांग्रेस से कोई समझौता नहीं

कुमारस्वामी की दो टूक

बेंगलुरू। कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस में मुख्यमंत्री पद को लेकर 30-30 महीने का कोई समझौता नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री बनने जा रहे जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने उन रिपोर्टों को सिरे से खारिज कर दिया है जिसमें कहा जा रहा था कि उनकी पार्टी कांग्रेस के साथ 30-30 महीने के पावर शेयरिंग फॉर्म्युले पर बात कर रही है। बता दें कि विधानसभा चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी पर बहुमत से चूक गई। येदियुरप्पा मुख्यमंत्री भी बने पर बहुमत का आंकड़ा हासिल नहीं करने के कारण उन्हें इस्तीफा देना पड़ा। जेडीएस नेता कुमारस्वामी को सीएम पद देते हुए अब कांग्रेस गठबंधन सरकार में शामिल होने जा रही है।
कांग्रेस के साथ सत्ता साझा करने के फॉर्म्युले से संबंधित खबरों के बारे में पूछे जाने पर कुमारस्वामी ने पत्रकारों से कहा, ‘इस तरह की कोई बात नहीं हुई है।Ó दरअसल, मीडिया के एक वर्ग में ऐसी खबरें थीं कि दोनों दल बारी-बारी से सरकार का नेतृत्व करने के फॉर्म्युले पर बात कर रहे हैं। इससे पहले 2006 में भाजपा और जेडीएस ने बारी-बारी से 20-20 महीने के लिए गठबंधन सरकार का नेतृत्व करने का समझौता किया था। राजराजेश्वरी नगर और जयनगर सीटों पर चुनाव के बारे में कांग्रेस नेताओं के साथ बातचीत होने संबंधी खबरों को भी (शेष पेज 8 पर)’कांग्रेस अपने विधायकों को संभालेÓ
इसके साथ ही कुमारस्वामी कहा कि सरकार कांग्रेस-जेडीएस की सहमति से ही चलेगी। उन्होंने कहा कि जेडीएस विधायकों को संभालकर रखना हमारी जिम्मेदारी है। लेकिन कांग्रेस के विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी कांग्रेस नेताओं की है, इसलिए कांग्रेस नेता अपने विधायकों पर नजर रखें।
एक सवाल के जवाब में कुमारस्वामी ने कहा कि जो नेता कर्नाटक में चुनाव से पहले जेडीएस को छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे और वो अब चुनाव जीतकर आए हैं। ऐसे विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी अब कांग्रेस की है। भले ही वो विधायक सरकार का हिस्सा होंगे, लेकिन उनकी पूरी जिम्मेदारी कांग्रेस पर होगी। ऐसे में इन विधायकों के कदम से जेडीएस को कोई लेना-देना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*