Thursday , 21 June 2018
Breaking News
Home » Political » ‘नोटबंदी की फाइल आती तो डस्टबिन में फेंक देता’

‘नोटबंदी की फाइल आती तो डस्टबिन में फेंक देता’

नई दिल्ली। काला धन बाहर निकालने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लागू की गई नोटबंदी की देश में लगातार आलोचना करने वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब विदेश में बताया कि यदि वह प्रधानमंत्री होते तो वह इस पर क्या निर्णय लेते।
गांधी इस समय विदेश यात्रा पर हैं। सिंगापुर के बाद मलेशिया पहुंचे गांधी से एक कार्यक्रम के दौरान सवाल किया गया कि वह प्रधानमंत्री होते तो नोटबंदी को किस तरह लागू करते, इस पर कांग्रेस अध्यक्ष ने जवाब दिया, यदि मैं प्रधानमंत्री होता और कोई मुझे नोटबंदी लिखी हुई फाइल देता तो मैं उसे उठाकर डस्टबिन में फेंक देता, क्योंकि मुझे लगता है कि नोटबंदी के साथ ऐसा ही किए जाने की जरूरत है।
गौरतलब है कि मोदी ने काला धन बाहर निकालने के लिए 8 नवंबर 2016 की मध्यरात्रि से बैंकिंग तंत्र में उपलब्ध 500 और एक हजार रूपए के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी। इसके बाद पांच सौ रूपए का नया नोट लाया गया था। एक हजार रूपए का नोट बंद कर दिया गया और प्रचलन में दो हजार रूपए का नोट लाया गया। विपक्ष के नोटबंदी के विरोध के बावजूद मोदी अपने फैसले को सही ठहराते रहे और कई विधानसभा चुनाव में इसका जमकर जिक्र भी किया।
कांग्रेस ने इस कार्यक्रम से जुड़ा एक वीडियो जारी किया है जिसमें गांधी से एक व्यक्ति नोटबंदी से संबंधित सवाल पूछ रहा है और वह उसका उत्तर दे रहे हैं। गांधी ने नोटबंदी का घोर विरोध किया था और उस समय वह एक बार पुराने नोट बदलवाने के लिए लाइन में भी लगे थे। कांग्रेस ने तो नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर पिछले साल देश भर में इस दिन को ‘काला दिवस’ के रूप में मनाया था।

One comment

  1. Is pagal ko pata hi nahi note band I kyon KI jati hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*