Thursday , 26 April 2018
Breaking News
Home » Political » तोगड़िया को झटका : कोकजे बने विहिप के अध्यक्ष

तोगड़िया को झटका : कोकजे बने विहिप के अध्यक्ष

नई दिल्ली। विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया को बड़ा झटका लगा है। विश्व हिंदू परिषद की नई कार्यकारिणी की घोषणा हो गई है। उनके करीबी राघव रेड्डी विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव हार गए हैं और हिमाचल प्रदेश के पूर्व गवर्नर विष्णु सदाशिव कोकजे को जीत मिली है। तोगड़िया और राघव रेड्डी को नई टीम में कोई भी नया दायित्व नहीं मिला है। इसे विहिप में तोगड़िया युग का अंत माना जा रहा है।
बताया जाता है कि पहली बार चुनाव कराने की वजह भी प्रवीण तोगड़िया का वीएचपी पर प्रभाव खत्म करना ही था। दरअसल, केंद्र सरकार और खासतौर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कई मौकों पर निंदा करने के चलते प्रवीण तोगड़िया से संघ और भाजपा का शीर्ष नेतृत्व नाराज चल रहा था।
वीएचपी के संविधान के मुताबिक इंटरनैशनल प्रेजिडेंट ही वर्किंग प्रेजिडेंट, वाइस प्रेजिडेंट और जनरल सेक्रटरीज की नियुक्ति करता है। बता दें कि वीएचपी के 54 वर्षों के इतिहास में पहली बार इंटरनैशनल प्रेजिडेंट पद के लिए चुनाव हुए हैं। शनिवार को गुरूग्राम में चुनाव हुआ।
माना जा रहा है कि कोकजे को जिम्मेदारी मिलने पर लंबे समय बाद वीएचपी के संगठन में बदलाव देखने को मिलेगा। अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया दशकों से वीएचपी का चेहरा रहे हैं। उन्हें राघव रेड्डी ने ही यह जिम्मेदारी दी थी। संगठन के भीतर के लोगों का कहना है कि दोनों मिलकर एक दूसरे का समर्थन करते रहे हैं और संगठन पर अपनी मजबूत पकड़ बना रखी थी।
अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में कुल 192 वोट डाले गए, जिनमें से कोकजे को 131 वोट और 60 वोट रेड्डी को मिले। कोकजे हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल एवं मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय में न्यायाधीश रह चुके हैं। कोकजे का जन्म छह सितंबर 1939 को मध्य प्रदेश में हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*