Wednesday , 22 November 2017
Breaking News
Home » Political » आज ‘निर्णायक’ फैसला !

आज ‘निर्णायक’ फैसला !

पटना। बिहार में महागठबंधन सरकार के भविष्य को लेकर बने अनिश्चितता के माहौल के बीच जदयू ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास पर अपने विधायकों की बैठक बुलाई है। कहा जा रहा है कि इस बैठक में नीतीश कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। दरअसल, मंगलवार को प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में जदयू की तरफ से राजद को तेजस्वी पर फैसला लेने के लिए 4 दिन का जो अल्टिमेटम दिया गया था, वह शनिवार को खत्म हो गया। ऐसे में अब रविवार को जदयू की ओर से कोई ‘निर्णायकÓ फैसला लिए जाने की बात कही जा रही है।
अभी तक दोनों पार्टियों के नेता सिर्फ जुबानी जमाखर्च में लगे हुए हैं। तल्ख बयानबाजी का सिलसिला पिछले लगभग एक हफ्ते से चल रहा है। बयानबाजी इतनी तीखी हो चली है कि जदयू नेता यह तक कह चुके हैं कि राजद अपने 80 विधायकों पर ज्यादा न इतराए, तो राजद की तरफ से खुद पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद ने दो टूक शब्दों में कह दिया कि तेजस्वी किसी हाल में इस्तीफा नहीं देंगे। वैसे दोनों दलों को इस बात का अहसास है कि हालात को इस तरह और लंबा नहीं खींचा जा सकता। खास तौर पर अपनी छवि को लेकर चिंतित नीतीश कुमार अब जल्द कोई फैसला कर लेना चाहते हैं।
कहा जा रहा है कि चार दिन में तेजस्वी पर फैसला करने के जदयू के अल्टिमेटम पर राजद ने वह गंभीरता नहीं दिखाई, जिसकी उम्मीद जदयू कर रही थी। किसी और नेता के बजाय जब खुद लालू ने सामने आकर तेजस्वी का खुलकर बचाव किया, तो यह मान लिया गया कि राजद अपने स्टैंड से डिगने वाली नहीं है। इस बीच ऐसी खबरें भी आईं कि किसी बीच के फॉर्म्युले पर काम हो रहा है, लेकिन उसे लेकर भी कोई ठोस बात सामने नहीं आ सकी।
एक तरफ लालू खुलकर तेजस्वी का बचाव कर रहे हैं, दूसरी तरफ नीतीश ने अभी तक इस मुद्दे पर सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहा है। नीतीश की यही चुप्पी राजद को अखर रही है। शनिवार को भी जब मीडिया ने नीतीश से इस मसले पर बात करने की कोशिश की, तो वह बिना कुछ कहे निकल गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*