Wednesday , 26 July 2017
Breaking News
Home » Jaipur » अन्नपूर्णा रसोई योजना अभी टेस्टिंग के दौर में

अन्नपूर्णा रसोई योजना अभी टेस्टिंग के दौर में

Views:
3

annapoornaजयपुर। प्रदेश में जरूरतमंद लोगों को सस्ती दरों पर गुणवत्तापूर्ण, ताजा एवं गर्म नाश्ता तथा खाना उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई अन्नपूर्णा रसोई योजना की अभी तीन माह तक टेस्टिंग की जा रही है। इस दौरान सामने आने वाले फीडबैक एवं सुझावों को शामिल करते हुए योजना को और बेहतर बनाया जाएगा।
स्वायत्त शासन एवं नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी ने रविवार को बताया कि इस योजना की टेस्टिंग के दौरान अन्नपूर्णा रसोई मोबाइल वैन लगने के स्थान, मैन्यू में शामिल किए गए व्यंजनों, उपलब्धता की स्थिति सहित विभिन्न पहलुओं पर लोगों की अपेक्षाओं का आकलन किया जा रहा है। अन्नपूर्णा रसोई योजना में सेवा, स्टाफ, हॉस्पिटेलिटी, हाईजीन, साफ-सफाई, नाश्ते एवं खाने की गुणवत्ता, मेन्यू की विविधता आदि के बारे में फीडबैक टोल फ्री नम्बर 18002701063 के माध्यम से दिया जा सकता है।
उमड़ रही लोगों की भीड़
उल्लेखनीय है कि अन्नपूर्णा रसोई वैन्स को लेकर लोगों में भारी उत्सुकता देखने को मिल रही है। लोग सरकार की इस पहल की सराहना कर रहे हैं। कम कीमत पर मिल रहे ताजा, गर्म एवं स्वादिष्ट नाश्ते तथा खाने का जायका लेने के लिए लोगों की अच्छी भीड़ अन्नपूर्णा रसोई मोबाइल वैन्स पर उमड़ रही है।
नाश्ते-खाने में भरपूर विविधता
हाईजीन, स्वच्छता एवं मेन्यू की विविधता के कारण अन्नपूर्णा रसोई वैन्स छात्र, श्रमिक और कामकाजी वर्ग में खूब लोकप्रिय हो रही हैं। अन्नपूर्णा रसोई वैन्स पर मात्र पांच रूपए प्रति प्लेट में पोहा, मसाला उपमा, सेवइयां, इडली सांभर, लापसी, ज्वार खीचड़ा, बाजरा खीचड़ा, गेहूं खीचड़ा, दाल पकवान, रोटी-उपमा का नाश्ता अलग-अलग दिनों पर परोसा जा रहा है। वहीं आठ रूपए की एक थाली में चार व्यंजन परोसे जा रहे हैं। दाल-चावल, दाल-ढोकली, कढ़ी-ढोकली, मसाला खिचड़ी, पुलाव, बेसन-गट्टा पुलाव, बिरयानी, बाजरे का मीठा खीचड़ा, गेहूं का मीठा खीचड़ा, गेहूं का चूरमा, मक्का का नमकीन खीच, ज्वार का नमकीन खीच, चावल का नमकीन खीच आदि व्यंजन अलग-अलग दिनों पर परोसे जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*