Tuesday , 20 February 2018
Breaking News
Home » International » 12 साल बाद एक झंडे के नीचे आए उत्तर और दक्षिण कोरिया

12 साल बाद एक झंडे के नीचे आए उत्तर और दक्षिण कोरिया

प्योंगचांग (दक्षिण कोरिया)। शीतकालीन ओलंपिक खेलों का शुक्रवार को यहां रंगारंग शुभारंभ हो गया। समारोह की खास बात यह रही कि 12 साल बाद दोनों कोरियाई देश यानी उत्तर और दक्षिण कोरिया ने एक ध्वज के तले मार्चपास्ट किया। दोनों देशों के खिलाड़ी संयुक्त कोरिया का प्रतिनिधित्व करने वाले नीले और सफेद झंडे को लिए हुए थे। इससे पहले तूरिन में 2006 में हुए शीतकालीन ओलंपिक में दोनों देशों ने एक झंडे के नीचे मार्चपास्ट किया था।साथ आने को मिला मंच
दोनों देशों के बीच लंबे समय से तनाव रहा है, लेकिन शीतकालीन ओलंपिक ने उन्हें साथ आने का एक मंच प्रदान किया। उनके एक झंडे के नीचे आने से अब लोगों में दोनों के एक होने की उम्मीद पैदा हो रही है। उत्तर और दक्षिण कोरिया के इस तरह करीब आने का कई देशों ने स्वागत किया है। चीन का कहना है कि शीतकालीन ओलंपिक समस्या के हल की शुरुआत साबित हो सकता है। इन खेलों में 93 देशों के एथलीट भाग ले रहे हैं।मून ने किम की बहन से मिलाया हाथउत्तर कोरियाई दल का नेतृत्व मानद राष्ट्रपति किम योंग नाम और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग ने किया। इस दौरान वह ऐतिहासिक पल भी आया जब दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने मुस्कुरा कर किम यो जोंग से हाथ मिलाया। पिछले महीने हुई कई बैठकों के बाद शीतकालीन ओलंपिक में उत्तर कोरिया की शिरकत देखने को मिली है। हालांकि इस समारोह से अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन दोनों ने ही किनारा किया।

समारोह में थे 35,000 दर्शक

इससे पहले दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने शीतकालीन ओलंपिक खेलों के शुरू होने की आधिकारिक घोषणा की। इसके बाद आतिशबाजी और अन्य रंगारंग कार्यक्रम पेश किए गए। समारोह को देखने के लिए स्टेडियम में करीब 35,000 दर्शक मौजूद थे। समारोह में जब अमेरिकी एथलीटों का दल गुजरा तो अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने उनका खड़े होकर स्वागत किया। इस दौरान स्टेडियम के चारों ओर कोरियाई पॉप हिट ‘गंगनम स्टाइल’ का प्रदर्शन जारी था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*