Thursday , 23 November 2017
Breaking News
Home » India » New Delhi » सेना के अमले में भारी कटौती की सिफारिश

सेना के अमले में भारी कटौती की सिफारिश

armyनई दिल्ली। सेना में कटौती के चीन के निर्णय का अनुसरण करते हुए रक्षा मंत्रालय की एक समिति ने थल सेना के अमले में भारी कटौती की सिफारिश की है जिसमें बेवजह के खर्चों को कम कर कुछ सैन्य संस्थाओं को बंद करने तथा कुछ अन्य का आकार छोटा करने की बात कही गयी है जिससे सेना को चुस्त-दुरूस्त और कुशल बनाया जा सके।
रक्षा मंत्रालय ने लेफ्टीनेंट जनरल डी बी शेकतकर की अध्यक्षता में गठित समिति को सशस्त्र सेनाओं के विभिन्न अंगों के काम काज की विस्तार से समीक्षा की जिम्मेदारी दी गयी थी। समिति को सेना की युद्ध क्षमता तथा कौशल बढ़ाने के उपाय सुझाने को भी कहा गया था। सूत्रों के अनुसार समिति ने पिछले महीने के अंत में रक्षा मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी।
यदि समिति की सभी सिफारिशों को पूरी तरह लागू किया जाता है तो इससे अगले पांच वर्षों में 25 से 30 हजार करोड़ रूपये की बचत होगी। उल्लेखनीय है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनङ्क्षपग ने सेना में बिना जरूरत की संस्थाओं को बंद कर भारी भरकम कटौती की घोषणा की थी। समिति ने साथ ही यह भी सिफारिश की है कि कटौती के कारण होने वाली बचत का उपयोग सेना की क्षमता बढ़ाने में की जानी चाहिए।
समिति ने रक्षा मंत्रालय के तहत काम करने वाली गैर लड़ाकू संस्थाओं जैसे रक्षा संपदा, रक्षा लेखा विभाग, डीजी क्यू ए, आर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और राष्ट्रीय कैडेट कोर के कामकाज की समीक्षा की भी सिफारिश की है। तीनों सेनाओं में समन्वय के मुद्दे (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*