Friday , 25 May 2018
Breaking News
Home » India » मोदी ने ऐसे समझाया यूपी का महत्व

मोदी ने ऐसे समझाया यूपी का महत्व

‘यहां सुबह-ए-बनारस है तो शाम-ए-अवध है’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य में निवेश और बेहतर कारोबार के इरादे से लखनऊ में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को इस दो दिवसीय समिट का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने अपने ही अंदाज में यूपी का महत्व उद्योगपतियों को समझाया।
मोदी ने कहा कि हमारे देश में पुरानी कहावत है कि देश में कोस कोस पर पानी बदले, चार कोस पर वाणी। यूपी में संसाधन और समृद्ध का इतना विस्तार है कि यहां पर सैंकड़ों वर्षों से हर क्षेत्र की अपनी एक अलग पहचान है। उन्होंने कहा, लखनऊ में चिकन का काम मशहूर है, तो मलिहाबाद के आम पूरी दुनिया में एक्सपोर्ट होते हैं। भदोही की कालीन, बनारस की जरी और जरदोजी का काम और साड़ियां दुनिया भर में मशहूर हैं। मुरादाबाद में पीतल के बर्तन देश विदेश जाते हैं, तो फिरोजाबाद का कांच दुनिया भर में अपनी चमक बिखेरता है। यहां आगरा का पेठा है तो कन्नौज का इत्र भी है। मोदी ने कहा, यहां सुबह-ए-बनारस है तो शाम-ए-अवध भी है। यहां ताजमहल, सारनाथ है, तो अयोध्या, मथुरा और काशी भी हैं। यहां राम की लीला है तो कृष्ण का रास भी है। यहां गंगा, यमुना है तो सरयू जी का आशीर्वाद भी है। उन्होंने कहा कि यूपी में आईआईटी कानपुर, (शेष पेज 8 पर)मोदी का योगी को चैलेंजक्या महाराष्ट्र से पहले यूपी को बनाएंगे ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी?लखनऊ। उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने बड़ी चुनौती पेश की है। उन्होंने कहा कि हाल में महाराष्ट्र सरकार ने अपने इनवेस्टर्स समिट में ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनने का लक्ष्य रखा है। सीएम योगी को चुनौती देते हुए प्र.म. मोदी ने कहा कि क्या वह उत्तर प्रदेश को महाराष्ट्र से पहले ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बना सकते हैं? प्रधानमंत्री ने यह चैलेंज देते हुए मुख्यमंत्री से पूछा कि क्या वह इस चुनौती के लिए तैयार हैं? मोदी ने कहा कि अगर दोनों राज्यों में इस तरह की प्रतियोगिता पनपती है, तो इसका फायदा पूरे देश को मिलेगा। उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश (शेष पेज 8 पर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*