Thursday , 23 November 2017
Breaking News
Home » India » बैंकों में जमा 3-4 लाख करोड़ संदिग्ध

बैंकों में जमा 3-4 लाख करोड़ संदिग्ध

blackmoneyनई दिल्ली। नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा की गई राशि की जांच पड़ताल में सरकार को करीब 3 से 4 लाख करोड़ रूपये की आय में टैक्स चोरी का पता चला है। यह राशि नोटबंदी के बाद 500, 1,000 रूपये के पुराने नोट जमा कराने की 50 दिन की अवधि में जमा कराई गई।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आयकर विभाग को इनकी जांच पड़ताल करने को कहा गया है जिसके बाद 3-4 लाख करोड़ रूपये की संदिग्ध टैक्स- अपवंचना वाली राशि जमा कराने वालों को नोटिस भेजे जाएंगे। अधिकारी ने कहा कि हमारे पास अब काफी आंकड़े उपलब्ध हैं। इनके विश्लेषण से पता चलता है कि नोटबंदी के बाद 60 लाख से अधिक बैंक खातों में 2 लाख रूपये से ज्यादा राशि जमा कराई गई।
इस दौरान कुल 7.34 लाख करोड़ रूपये की राशि बैंक खातों में जमा कराई गई। उन्होंने बताया कि पूर्वोत्तर राज्यों में विभिन्न बैंक खातों में 10,700 करोड़ रूपये से अधिक राशि जमा कराई गई। आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय सहकारी बैंकों में विभिन्न खातों में जमा कराई गई 16,000 करोड़ रूपये से अधिक राशि की भी जांच परख कर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि नोटबंदी के बाद 25,000 करोड़ रूपये निष्क्रिय पड़े बैंक खातों में जमा कराये गए जबकि 8 नवंबर 2016 के बाद 80,000 करोड़ रूपये के कर्ज का नकद राशि में भुगतान किया गया।
इससे पहले, सोमवार को वित्त मंत्री अरूण जेटली ने अलग-अलग टैक्स की वसूली का आंकड़ा पेश किया। जेटली ने बताया कि नोटबंदी के बाद सिर्फ कस्टम्स ड्यूटी को छोड़कर सभी तरह के टैक्स कलेक्शन में अच्छी-खासी वृद्धि हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*