Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » India » ‘पद्मावत’ विरोधियों को एक और झटका

‘पद्मावत’ विरोधियों को एक और झटका

सुप्रीम कोर्ट में याचिका खारिज

नई दिल्ली। संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘‘पद्मावत’’ की रिलीज पर रोक लगाने की एक और कोशिश नाकाम हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट ने ‘‘पद्मावत’’ के खिलाफ दाखिल की गई एक याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया है। मनोहर लाल शर्मा नाम के ऐडवोकेट की तरफ से दाखिल की गई याचिका में सेंसर बोर्ड पर अवैध तरीके से पद्मावत को सर्टिफिकेट जारी करने का आरोप लगाया था। उधर, चार राज्यों में पद्मावत पर लगे बैन को हटाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी इसका विरोध जारी है। करणी सेना ने फिल्म को रिलीज न होने देने और महिलाओं के जौहर की धमकी दी है।
सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के नेतृत्व में तीन जजों की बेंच ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट एक संवैधानिक कोर्ट है। बेंच ने कहा कि कोर्ट ने कल अपने एक अंतरिम आदेश में कहा था कि राज्य पद्मावत की स्क्रीनिंग पर रोक नहीं लगा सकते हैं। गौरतलब है कि गुरूवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद पद्मावत की रिलीज का रास्ता साफ हो गया है। फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है। सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा शासित राज्यों में भी पद्मावत की रिलीज पर रोक के फैसले पर स्टे लगा दिया है।
हालांकि पद्मावत का विरोध कर रही राजपूत करणी सेना के रूख में कोई बदलाव नहीं आया है। करणी सेना ने कहा है कि वह इस आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की डबल बेंच में याचिका दायर कर फिल्म पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने की मांग करेगी। एक विडियो संदेश में संगठन के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने कहा कि फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के लिए वे लोग राष्ट्रपति से मिलने की कोशिश भी करेंगे। उन्होंने कहा कि वह इस फिल्म का प्रदर्शन नहीं होने देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*