Monday , 19 February 2018
Breaking News
Home » India » कृष्णा सोबती ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित

कृष्णा सोबती ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित

नयी दिल्ली। हिन्दी की वयोवृद्ध लेखिका कृष्णा सोबती को शनिवार को यहां उनकी अनुपस्थिति में 53वें ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। श्रीमती सोबती की दो दिन पूर्व अचानक तबीयत खराब होने के कारण उन्हें यहां एक निजी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा जिसके कारण उनकी ओर से यह पुरस्कार हिंदी के सुप्रसिद्ध लेखक एवं संस्कृति कर्मी अशोक वाजपेयी ने ग्रहण किया। भारतीय ज्ञानपीठ न्यास के अध्यक्ष न्यायमूर्ति विजेंद्र जैन और मशहूर आलोचक डॉ. नामवर सिंह ने वाजपेयी को औपचारिक रूप से यह पुरस्कार संसद भवन परिसर स्थित बालयोगी सभागार में दिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पहले यह पुरस्कार प्रदान करना था। वाजपेयी ने श्रीमती सोबती के लिए वर्ष 2017 के लिए यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त किया। पुरस्कार में 11 लाख रूपये का चेक, वाग्देवी की प्रतिमा, प्रशस्ति पत्र और ताम्र फलक शामिल है। श्रीमती सोबती महादेवी वर्मा के बाद हिन्दी की दूसरी लेखिका हैं, जिन्हें यह सम्मान मिला। अब तक हिन्दी में सुमित्रानंदन पन्त, दिनकर, अज्ञेय, निर्मल वर्मा, कुंवर नारायण, अमरकांत, श्रीलाल शुक्ल और केदारनाथ सिंह को यह पुरस्कार मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*