Thursday , 26 April 2018
Breaking News
Home » India » अब तक भंसाली जेल से बाहर कैसे?

अब तक भंसाली जेल से बाहर कैसे?

भाजपा को सिखाएंगे सबककरणी सेना की धमकी

नई दिल्ली। संजय लीला भंसाली की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘पद्मावती’ पर सेंसर बोर्ड और निर्माताओं के बीच कथित समझौते की खबरों के बाद करणी सेना ने देशभर में फिल्म रिलीज के खिलाफ आंदोलन और भाजपा को सबक सिखाने की धमकी दी है। शुक्रवार को सेंसर बोर्ड पर आरोप लगाते हुए सेना ने कहा, सेंसर चीफ प्रसून जोशी को हटा देना चाहिए। पूरी फिल्म पर सवाल उठाते हुए पूछा कि अब तक फिल्म बनाने वाले संजय लीला भंसाली जेल से बाहर कैसे हैं।फिल्म की फंडिंग पर सवाल
करणी सेना के नेता सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने जौहर प्रथा के उल्लेख पर नाराजगी जताई। कहा, जौहर इसलिए किया गया था क्योंकि माता पद्मिनी नहीं चाहती थीं कि खिलजी उनके मृत शरीर को भी हाथ लगा सके। अगर जान देनी होती तो वो जहर पीकर भी दे सकती थीं। उनका ये बलिदान महान था। पद्मावती की फंडिंग पर सवाल उठाते हुए करणी सेना ने कहा, फिल्म उस दौरान बनी जब देशभर में नोटबंदी लागू की गई थी। हमारे पास नोटबंदी के दौर में 4 हजार रूपये भी नहीं थे और इनको फिल्म के लिए कहां से करोड़ों की फंडिंग मिल गई। सरकार इसकी भी जांच कराए।ड्डराज्यवर्धन ने अब तक इस्तीफा क्यों नहीं दिया
करणी सेना ने इस बात पर भी सवाल उठाए कि अब तक जब फिल्म को सरकार ने अनुमति नहीं दी और ना ही सेंसर बोर्ड ने अनुमति दी तो फिर क्यों संजय लीला भंसाली पर देशद्रोह का केस क्यों दर्ज नहीं हुआ। करणी सेना ने भंसाली पर हिन्दू संस्कृति को बेचने का आरोप लगाया। केंद्रीय खेल राज्य मंत्री नेशनल शूटर राज्यवर्धन सिंह राठौर के अब तक इस्तीफा ना देने पर भी सवाल उठाए। कहा, राज्यवर्धन माता पद्मिनी के राज्य से आते हैं फिर भी उन्होंने अब तक इस्तीफा क्यों नहीं दिया।
उपचुनाव में देंगे भाजपा की वादाखिलाफी का जवाब
करणी सेना ने पद्मावती को रिलीज करने को लेकर भाजपा को भी धमकी दी। कहा, आगे चलकर राजस्थान में 3 उपचुनाव हैं। भाजपा की वादाखिलाफी का हम जवाब दे सकते हैं। हम भाजपा को वोट से वंचित भी कर सकते हैं।सेंसर बोर्ड चीफ प्रसून जोशी को हटाया जाए
28 दिसंबर को पद्मावती को लेकर हुई बैठक में फिल्म पद्मावती पर लिए गए फैसले पर करणी सेना ने कहा कि प्रसून जोशी को बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी का भी विरोध किया। प्रसून जोशी ने पिछले शनिवार को पांच सवालों के जवाब दिए और बताया कि पद्मावती रिलीज को लेकर सेंसर में किस तरह की प्रगति है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*