Saturday , 19 August 2017
Breaking News
Home » Hot on The Web » 365 रानियों के साथ रोल्स रॉयस कारें रखने के भी शौकिंन थे यह महाराजा

365 रानियों के साथ रोल्स रॉयस कारें रखने के भी शौकिंन थे यह महाराजा

Views:
62

हमारा देश कभी राजा-महाराजाओं के देश हुआ करता था। यहां पर कभी हर क्षेत्र की अलग रियासत और महाराजा हुआ करते थे। आज हम जिस महाराजा की बात कर रहे हैं वो थे पटियाला के महाराजा भूपिंदर सिंह। वह अपनी बहुत- सी खास बातों के लिए अब भी जाने जाते हैं। आइए जानें उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें।

– महाराजा भूपिंद्र सिंह का जन्म 12 अक्टूबर 1891 को मोती बाग प्लेस पटियाला में हुआ था।
– वह अपने महंगे शौक के लिए दुनिया में मशहूर थे।
– पिता की मौत के बाद भूपिंदर सिंह बने पटियाला के महाराजा बन गए और राजगद्दी को संभाला।
– उन्होने 1900 से 1938 तक किया शासन और राजा होने के साथ-साथ अपने सारे शौंक भी पूरे किए।
– वह अपने राज्य में उस समय के पहले व्यक्ति थे,जिन्होने अपना खुद का एयरप्लेन खरीदा था।

– भूपिंद्रर सिंह की 365 रानियां थी और उनकी सुख-सुविधाओं का पूरा ख्याल भी रखा जाता था। कहा जाता है कि अपनी रानियों को खुश करने के लिए महल में उनके नाम की लालटेन जलाई जाती थी। जो लालटेन पहले बुझ जाती थी राजा उस रानी के साथ ही रात गुजारते थे।
– उनकी दस पत्नियों से थे 83 बच्चे हुए लेकिन कहा जाता है कि 53 ही जीवित पाए थे।

– राजा को महंगी गाडियां रखने का बहुत शौंक था और उनके पास 44 रोल्स रॉयस कारें थी।
– उनका रहन सहन बिल्कुल राजसी था। लंदन की कंपनी डिजाइन किया महाराजा का डिनर सेट डिजाइन किया था जो सोने का बना हुआ था।
– पूरी दुनिया मेें वह इतने मशहूर थे कि हिटलर ने उनसे प्रभावित होकर उन्हें अपनी माय्बैक कार तोहफे में दी थी।
– वह गहने पहनने के भी बहुत शौकिन थे,2,930 हीरो वाला नेकलेस पहनते थे। जिस पर दुनिया का सातवां सबसे बड़ा हीरा लगा हुआ था।

– राजा 166 करोड़ की कीमत का Cartier नेकलेस पहनते थे। जो प्लैटिनम और डायमंड से बना था।
– 23 मार्च 1938 में हुई भूपिंद्र सिंह की मौत हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*